मध्य प्रदेश में फिर दिखा जंगल राज, इंदौर के बाद अब देवास में फेरीवाले की पिटाई

भोपाल ब्यूरो। मध्य प्रदेश के इंदौर में एक चूड़ी विक्रेता की पिटाई के बाद अब देवास में एक मुस्लिम फेरीवाले की पिटाई का मामला सामने आने के बाद प्रदेश की कानून व्यवस्था को लेकर सवाल उठना शुरू हो गए हैं।

जानकारी के मुताबिक, देवास जिले के हाटपीपल्या थाना क्षेत्र के ग्राम बारोली में फेरी लगाकर बेचने वाले एक व्यक्ति को दो युवको ने रोका और आधार कार्ड दिखाने के लिए कहा। जब विक्रेता ने कहा कि उसके पास आधार कार्ड नहीं है तो दोनों युवको ने सब्ज़ी विक्रेता पर हमला बोल दिया और बुरी तरह पीटा।

जानकारी के मुताबिक जहीर, पिता बसीर खाँ उम्र 45 वर्ष निवासी ग्राम आमलाताज मोटर साइकिल से फेरी लगा कर टोस्ट और जीरा बेचने का काम करता है। बुधवाऱ को भी वो मोटर साइकिल से वह गांव बारोली में टोस्ट,जीरा बेचने के लिए गया था।

ज़हीर के मुताबिक, उसे लाठी और बेल्ट से मारा तथा दोनों युवको ने उसे गालियां देते हुए उस इलाके में न घुसने की चेतावनी भी दी। इस मामले में हाटपीपल्या थाना पुलिस ने दो अज्ञात आरोपियों के खिलाफ विभिन्न धाराओं के तहत प्रकरण दर्ज कर लिया है। पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ धारा 294, 323, 506, 34 के तहत प्रकरण दर्ज किया है।

ये भी पढ़ें:  Bomb In Flight : ईरान के यात्री जेट में बम की धमकी!

गौरतलब है कि रविवार को ही में इंदौर में एक चूड़ी विक्रेता की कुछ लोगों ने पिटाई की थी। हालांकि जब इस पूरे प्रकरण में हिन्दूवादी संगठनों से जुड़े लोगों का नाम सामने आया तो इस पूरे प्रकरण चूड़ी विक्रेता पर लड़की छेड़ने और दो आधार कार्ड रखने के आरोप लगाकर उसे जेल भेज दिया गया।

अपनी राय कमेंट बॉक्स में दें
सत्य को ज़िंदा रखने की इस मुहिम में आपका सहयोग बेहद ज़रूरी है। आपसे मिली सहयोग राशि हमारे लिए संजीवनी का कार्य करेगी और हमे इस मार्ग पर निरंतर चलने के लिए प्रेरित करेगी। याद रखिये ! सत्य विचलित हो सकता है पराजित नहीं।
ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें