बुर्का पहनकर घूमता मिला मंदिर का पुजारी, लोगों ने किया पुलिस के हवाले

बुर्का पहनकर घूमता मिला मंदिर का पुजारी, लोगों ने किया पुलिस के हवाले

नई दिल्ली। केरल में एक अजोबोग़रीब मामला सामने आया है। यहां कोझिकोड स्थित कोयिलैंडी जंक्शन पर बुर्का पहनकर घूम रहे एक मंदिर के पुजारी को लोगों ने पुलिस के हवाले कर दिया।

दरअसल, बुर्का पहनकर घूम रहे पुजारी को देखकर स्थानीय लोगों को शंका हुई कि यह कोई मुस्लिम महिला नहीं बल्कि कोई और है। शंका होने पर दो लोगों ने कुछ देर तक बुर्के में छिपे मंदिर के पुजारी पर नज़र रखी। पुजारी पर नज़र रखने के लिए दोनों लोगों को कुछ दूर तक उसके पीछे पीछे चलना पड़ा।

थोड़ी ही देर में पीछा कर रहे दोनों लोगों को यह पक्का यकीन हो गया कि बुर्के में जो महिला है, वह न तो मुस्लिम है और न ही महिला है। इसके बाद दोनों लोगों ने स्थानीय लोगों की मदद से पुजारी को रोका और चेहरा दिखाने के लिए दबाव डाला।

इस पर पुजारी ने जैसे ही बुर्के के अंदर से बोलना शुरू किया तो उसकी पोल खुल गई और साबित हो गया कि बुर्के के अंदर कोई महिला नहीं बल्कि एक पुरुष है। इसके बाद जब बुर्का उतरवाया गया तो उसके अंदर एक स्थानीय मंदिर का पुजारी निकला।

इस पर लोगों ने पुलिस को सूचना दे दी और पुलिस उक्त पुजारी को पूछताछ के लिए पुलिस स्टेशन ले आई। पुजारी ने पूछताछ में अजीब तर्क दिया कि वह चिकिन पॉक्स होने के कारण बुर्का पहनकर बाहर निकला है।

ये भी पढ़ें:  भारत में जनसंख्या नियंत्रण कानून की जरूरत नहीं: नीतीश कुमार

हालांकि बाद में स्थानीय लोगों और पुजारी के रिश्तेदारों द्वारा जिम्मेदारी लिए जाने के बाद पुलिस ने पुजारी को रिहा कर दिया। हालांकि पुलिस ने पुजारी के स्वास्थ्य की जांच कराई तो उसे चिकिन पॉक्स नहीं निकला। वहीँ पुजारी के रिश्तेदारों ने दावा किया कि पजारी की दिमागी हालत सही नहीं है और वह मानसिक रूप से कमज़ोर है।

अपनी राय कमेंट बॉक्स में दें

TeamDigital