जोहानिसबर्ग : भारतीय कलाकार कुमार शर्मा ने दक्षिण अफ्रीकी कथक कलाकारों के लिए ‘मास्टर क्लास’ की मेजबानी की

जोहानिसबर्ग : एक अनूठी नृत्य शैली ‘कथक फ्यूजन’ बनाने वाले नृतकों के दल ‘कथक रॉकर्स’ के कुमार शर्मा और राशि नरूला ने सोमवार को यहां भारतीय वाणिज्य दूतावास में दक्षिण अफ्रीका में कथक कलाकारों के लिए एक विशेष कक्षा की मेजबानी की।

कुछ सालों पहले जोहानिसबर्ग में समूह का स्वागत करने वाली ‘जैजी मसाला डांस स्कूल’ की संस्थापक वर्षा मगन ने जोहानिसबर्ग में भारतीय महावाणिज्य दूत अंजू रंजन के सहयोग से इस सत्र का आयोजन किया।

शर्मा ने कहा कि कक्षा एक विश्व भ्रमण का हिस्सा थी और उनका अगला पड़ाव पूर्वी अफ्रीका में केन्या है।

जयपुर कथक घराने से ताल्लुक रखने वाले शर्मा ने कहा कि संजय लीला भंसाली की साल 2000 में आई फिल्म “देवदास” में महान कथक नर्तक पंडित बिरजू महाराज के काम को देखने के बाद उन्हें बॉलीवुड शैली के साथ शास्त्रीय नृत्य शैली को मिलाने की चुनौती स्वीकारने की प्रेरणा मिली।

उन्होंने कहा, “जिस तरह से उन्होंने बॉलीवुड फिल्म में कथक की बारीकियों को जोड़ा उससे मैं इतना प्रभावित हुआ कि मुझे लगा कि मुझे इसे लोकप्रिय संगीत के साथ आजमाना चाहिए। मुझे विश्वास था कि मैं संगीत में और कथक की और भावभंगिमाओं को मिला सकता हूं, और शायद मैं और अधिक युवाओं को आकर्षित कर सकूं।”

शर्मा ने कहा कि उनका यह प्रयोग कारगर रहा।

“डांस दीवाने” और “कौन बनेगा करोड़पति” जैसे लोकप्रिय भारतीय कार्यक्रमों में प्रस्तुति दे चुके कलाकार ने कहा, “भारत में दर्शकों ने मेरे शो को पसंद किया और वे ऐसे और प्रयोग देखना चाहते हैं।”

वहीं मगन ने कहा कि उनके स्कूल के डांसर के लिये शर्मा के नृत्य दल के साथ काम करना सौभाग्य की बात है।

उन्होंने कहा, “हम अगले साल मार्च में यहां मिलकर एक और शो करने की उम्मीद कर रहे हैं।”

अपनी राय कमेंट बॉक्स में दें