यूपी में 200 सीटों पर चुनाव लड़ेगी जनता दल यूनाइटेड

पटना। जनता दल यूनाइटेड ने एलान किया है कि वह आगामी विधानसभा चुनाव में अपने उम्मीदवार उतारने का फैसला किया है। जनता दल यूनाइटेड की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक के बाद जनता दल यूनाइटेड के महासचिव केसी त्यागी ने कहा कि पार्टी ने आगामी राज्यों के चुनाव लड़ने का फैसला किया है।

के सी त्यागी ने कहा कि हमारी प्राथमिकता NDA के तहत चुनाव लड़ना है। हमें सम्मानजनक सीटें मिलीं तो NDA के साथ लड़ेंगे नहीं तो अकेले लड़ेंगे। उत्तर प्रदेश में हम करीब 200 सीटों पर चुनाव लड़ेंगे। मणिपुर में भी चुनाव लड़ेंगे।

वहीँ आज संपन्न हुई जनता दल यूनाइटेड की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में ललन सिंह को जनता दल यूनाइटेड का राष्ट्रीय अध्यक्ष नियुक्त किया गया। ललन सिंह लोकसभा में पार्टी के संसदीय बोर्ड के नेता हैं जबकि उपेंद्र कुशवाहा इस वक्त जेडीयू संसदीय बोर्ड के अध्यक्ष हैं। कुशवाह ने अपनी पार्टी रालोसपा का विलय नीतीश की पार्टी जेडीयू में किया है।

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने ललन सिंह को बधाई देते हुए कहा कि ललन जी (ललन सिंह) हमारी पार्टी के बहुत वरिष्ठ साथी हैं। शुरू से ही साथ रहे हैं। आरसीपी सिंह ने आज की बैठक में खुद ही कहा और ललन जी का प्रस्ताव भी रखा। सर्वसम्मति से सब लोगों ने उसे स्वीकार किया।

ये भी पढ़ें:  गाजियाबाद : एलसीडी टीवी फटने से एक लड़के की मौत,

मुख्यमंत्री ने कहा कि राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक के पहले ही पदाधिकारियों की बैठक में ही लोगों ने प्रस्ताव तैयार किया था और आज उसे रखा जिसे सर्वसम्मति से स्वीकार किया गया कि जाति आधारित जनगणना होनी चाहिए। ये राष्ट्र के और सभी लोगों के हित में है क्योंकि एक बार सब फीगर जानना बहुत जरूरी है।

वहीँ बिहार के बाहर विधानसभा चुनाव में जनता दल यूनाइटेड के चुनाव लड़ने को लेकर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि चुनाव है, उसके बारे में भी लोगों ने अपनी बात कही है। उसमें सब लोगों को जिम्मेदारी दी गई है कि इन लोगों के साथ बैठिए और पूरी बात करिए। हम लोग NDA में हैं तो वहां भी लोग बात कर रहे हैं।

अपनी राय कमेंट बॉक्स में दें
सत्य को ज़िंदा रखने की इस मुहिम में आपका सहयोग बेहद ज़रूरी है। आपसे मिली सहयोग राशि हमारे लिए संजीवनी का कार्य करेगी और हमे इस मार्ग पर निरंतर चलने के लिए प्रेरित करेगी। याद रखिये ! सत्य विचलित हो सकता है पराजित नहीं।
ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें