राष्ट्रीय लोकदल के अध्यक्ष चौधरी अजीत सिंह का निधन

गुरुग्राम। राष्ट्रीय लोकदल के अध्यक्ष और पूर्व केंद्रीय मंत्री चौधरी अजीत सिंह का निधन हो गया है। वे 86 वर्ष के थे। उन्हें फेंफड़ो में संक्रमण के इलाज के लिए गुरुग्राम के निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया था।

86 वर्षीय चौधरी अजीत सिंह कोरोना संक्रमित से पीड़ित थे। बताया जा रहा है कि मंगलवार रात अजित सिंह की तबीयत ज्यादा बिगड़ गई थी। इसके बाद उन्हें गुरुग्राम के एक प्राइवेट अस्पताल में भर्ती कराया गया था। उनके फेंफड़ो में संक्रमण बढ़ने के बाद सांस लेने में तकलीफ हो रही थी जिसके बाद उन्हें लाइफ सपोर्ट सिस्टम पर रखा गया था।

पूर्व प्रधानमंत्री चौधरी चरण सिंह के बेटे चौधरी अजित सिंह बागपत से 7 बार सांसद और केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री रह चुके हैं। अपने 86 वर्ष के जीवन में चौधरी अजीत सिंह ने कई उतर चढाव देखे। पश्चिमी उत्तर प्रदेश की जाट बेल्ट में चौधरी अजीत सिंह का बड़ा जनाधार था।

1989 में अजित सिंह पहली बार बागपत से लोकसभा चुनाव जीते थे। इसके बाद वीपी सिंह सरकार में उन्हें केंद्रीय मंत्री बनाया गया था. साल 1991 में वे एक बार फिर बागपत से लोकसभा चुनाव जीते और नरसिम्हाराव की सरकार में भी मंत्री बने। साल 1996 में वह तीसरी बार कांग्रेस के टिकट पर लोकसभा पहुंचे। हालांकि बाद में उन्होंने इस सीट से इस्तीफ़ा दे दिया था।

अपनी राय कमेंट बॉक्स में दें
सत्य को ज़िंदा रखने की इस मुहिम में आपका सहयोग बेहद ज़रूरी है। आपसे मिली सहयोग राशि हमारे लिए संजीवनी का कार्य करेगी और हमे इस मार्ग पर निरंतर चलने के लिए प्रेरित करेगी। याद रखिये ! सत्य विचलित हो सकता है पराजित नहीं।
ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें