मदरसे में छात्र की मौत की गुत्थी सुलझी: सामने आया ये भयाभय सच

नूह। हरियाणा के नूह के पुन्हाना उपमंडल के गांव शाह चोखा में पीर दादा शाह चौखा की मंझार के पास स्थित मदरसा में पिछले दिनों 11 साल के बच्चे की संदिग्ध मौत मामले में पुलिस बड़ा खुलासा किया है।

पुलिस के मुताबिक, मदरसे में पढ़ने वाले 11 वर्षीय छात्र का कातिल कोई और नहीं बल्कि उसके साथ पढ़ने वाला 13 वर्षीय छात्र ही है। मदरसे में 11 वर्षीय छात्र की मौत को लेकर खुलासा करते हुए थाना प्रभारी सतबीर सिंह ने मीडिया को बताया कि मदरसा के एक छात्र की मृत्यु के मामले में जांच की गई। यह पाया गया कि उसी मदरसे के एक और 13 वर्षीय छात्र ने उसकी हत्या कर दी क्योंकि वह मदरसा में नहीं पढ़ना चाहता था वह बाहर स्कूल जाना चाहता था।

उन्होंने कहा कि हत्या का आरोपी लड़का मदरसे में पढ़ना नहीं चाहता था इसलिए उसने मदरसे का नाम बदनाम करने के लिए यह कृत्य किया ताकि मदरसा बंद हो जाए और वह इससे बाहर निकल सके।

गौरतलब है कि हरियाणा के नूह के पुन्हाना उपमंडल के गांव शाह चोखा में पीर दादा शाह चौखा की मंझार के पास स्थित मदरसे में पिछले दिनों एक 11 साल के बच्चे की संदिग्ध मौत का मामला सामने आया था।

ये भी पढ़ें:  आज़म खान का नकवी को जबाव: हम न तो कभी पहले हारे थे और न अब हारेंगे

मृतक बच्चे के एक परिजन ने न्यूज़ एजेंसी एएनआई से बात करते हुए कहा था कि इसकी उम्र 11 साल थी और यह इस मदरसा में 1 साल से पढ़ रहा था। मुझे बताया गया कि मेरा भतीजा मदरसा से निकल गया है लेकिन घर नहीं पहुंचा। हमने इसकी खोज की लेकिन कहीं नहीं मिला। यह हत्या है। इसके पिता नहीं है और यह 3 भाई बहन हैं। हमारी मांग है कि इसमें कार्रवाई हो।

अपनी राय कमेंट बॉक्स में दें