हिसार में किसानो ने सीएम खटटर का किया विरोध, लाठीचार्ज में कई किसान घायल

नई दिल्ली। हरियाणा के हिसार में आज पुलिस द्वारा किये गए लाठीचार्ज में कई किसानो के घायल होने की खबर है। यह घटना उस समय हुई जब मुख्यमंत्री मनोहर लाल खटटर हिसार में एक कोविड अस्पताल का उद्घाटन करने पहुंचे थे।

इसी दौरान सीएम के दौरे का विरोध कर रहे किसानों के ऊपर पुलिस ने लाठीचार्ज किया और आंसू गैस के गोले बरसाए। पुलिस ने किसानों को दौड़ा-दौड़ाकर पीटा, जिसके जवाब में किसानों ने भी पुलिस पर पथराव किया।

वहीँ किसानो पर हुए लाठीचार्ज की निंदा करते हुए कांग्रेस सांसद दीपेंद्र सिंह हुड्डा ने हरियाणा सरकार को कड़ी चेतावनी दी है। दीपेंद्र हुड्डा ने कहा कि सरकार किसानों के घाव पर मरहम लगाने की बजाय बार-बार उन्हें कुरेदने का काम कर रही है।

हुड्डा ने कहा कि हरियाणा की मनोहर लाल खटटर सरकार किसान आंदोलन का समाधान निकालने की बजाए किसानों से टकराव के हालात पैदा करने में लगी है। मुख्यमंत्री भली-भांति जानते हैं कि प्रदेश का किसान उनसे नाराज है। बावजूद इसके वो उन्हें उकसाने के लिए इस तरह के कार्यक्रम कर रहे हैं।

ये भी पढ़ें:  अध्यक्ष पद के चुनाव से पहले एक्टिव हुए G-23 नेता, दिल्ली में बैठक, गहलोत से मिले आनंद शर्मा

सांसद दीपेंद्र ने कहा कि इलाज, ऑक्सीजन और दवाइयों के अभाव में रोज प्रदेश के सैकड़ों लोगों की जाने जा रही हैं। एक-एक मरीज के लिए एक-एक मिनट बेहद मुश्किल साबित हो रहा है। लेकिन इन सबके बीच भी सरकार इवेंटबाजी, उद्घाटन और उत्सव मनाने में व्यस्त है।

हुड्डा ने कहा कि उद्घाटन कार्यक्रमों के जरिए मुख्यमंत्री खुद कोरोना गाइडलाइंस को तोड़ रहे हैं। मुख्यमंत्री के कार्यक्रम में सुरक्षाकर्मियों समेत तमाम प्रशासनिक अधिकारी और कर्मचारियों का अमला मौजूद रहता है। जिन लोगों को इस मुश्किल घड़ी में मरीजों की सेवा में तैनात होना चाहिए था, वो मुख्यमंत्री की आवभगत में खड़े नजर आते हैं। लगता है जींद की घटना से भी मुख्यमंत्री ने कोई सबक नहीं लिया।

अपनी राय कमेंट बॉक्स में दें
सत्य को ज़िंदा रखने की इस मुहिम में आपका सहयोग बेहद ज़रूरी है। आपसे मिली सहयोग राशि हमारे लिए संजीवनी का कार्य करेगी और हमे इस मार्ग पर निरंतर चलने के लिए प्रेरित करेगी। याद रखिये ! सत्य विचलित हो सकता है पराजित नहीं।
ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें