Panama Leaks: अमिताभ को महाराष्ट्र में सेव टाइगर के ब्रांड एंबेसेडर पद से हटाने की मांग

नई दिल्ली । विपक्ष के नेता ने कहा कि अगर बच्चन दोनों पदों पर बने रहते हैं, वो भी तब जब उनका नाम कथित रूप से पनामा पेपर्स में आया है, तो यह अनुचित होगा।

पनामा पेपर्स लीक मामले में अभिनेता अमिताभ बच्चन का नाम आने के बाद महाराष्ट्र में विपक्षी कांग्रेस ने शुक्रवार को उन्हें ‘सेव टाइगर परियोजना’ के लिए राज्य के दूत पद से हटाने की मांग की। वहीं भाजपा के एक विधायक ने अमिताभ के खिलाफ अभियान को निंदा-अभियान बताते हुए इसका विरोध किया।

विपक्ष के नेता राधाकृष्ण विखे-पाटिल ने निचले सदन में इस मुद्दे को उठाते हुए कहा कि जब तक बच्चन को पनामा पेपर्स मामले में क्लीन चिट नहीं मिल जाती, उन्हें बाघ परियोजना के ब्रांड अंबेसेडर से और बांद्रा कुर्ला कंप्लेक्स के एक भाग को अंतरराष्ट्रीय वित्त तथा सेवा केंद्र बनाने की परामर्श समिति से हटाया जाना चाहिए। गौरतलब है कि बच्चन शुक्रवार को ही समिति की एक बैठक में भाग लेने मंत्रालय पहुंचे।

विपक्ष के नेता ने कहा कि अगर बच्चन दोनों पदों पर बने रहते हैं, वो भी तब जब उनका नाम कथित रूप से पनामा पेपर्स में आया है, तो यह अनुचित होगा। उधर, भाजपा विधायक योगेश सागर ने अमिताभ जैसे कलाकार के खिलाफ ‘निंदा अभियान’ का विरोध किया। अमिताभ खुद दो कर पनाहगाह देशों में ऑफशोर कंपनियों से कथित संबंधों में नाम आने के बाद इस तरह की कंपनियों से किसी तरह के रिश्तों की बात खारिज कर चुके हैं।

अपनी राय कमेंट बॉक्स में दें