प्रोफेसर ने छात्रा को ‘ढंग के कपड़े’ पहनने को कहा, विरोध में निकर पहनकर पहुंचे लॉ स्टूडेंट्स

बेंगलुरु । कक्षा में निकर पहनकर आई छात्रा के कपड़ों की पसंद पर एक शिक्षक द्वारा कथित रूप से टिप्पणी किए जाने के बाद शुक्रवार को नेशनल लॉ स्कूल ऑफ इंडिया यूनिवर्सिटी में उसके सभी सहपाठी विरोध प्रदर्शन करते हुए निकर पहनकर कॉलेज पहुंचे।

बीए-एलएलबी (ऑनर्स) तीसरे वर्ष के छात्रों की ओर से फेसबुक पर डाले गए एक पोस्ट के अनुसार, ‘‘संबद्ध छात्रा के साथ एकजुटता दिखाने, और प्रोफेसर के खिलाफ विरोध स्वरूप हम अपनी व्यक्तिगत अभिव्यक्ति के अधिकार का उपयोग करते हुए संबंधित प्रोफेसर की कक्षा में निकर पहनकर आए।’’

एक छात्र की ओर से डाले गए पोस्ट के अनुसार, प्रोफेसर ने छात्रा को ढंग के कपड़े पहनने की बात कह कर पूरी कक्षा के सामने कथित रूप से उसे सजा दी। एक बयान में कुलपति आर. वेंकट राव ने कहा, ‘‘घटना पर चर्चा के लिए 11 अप्रैल को संकाय सदस्यों की बैठक बुलायी जा रही है।’’

स्टूडेंट ने कहा, जिस छात्रा की बात हो रही है, उसने भी बाकी विद्यार्थियों की तरह कक्षा में निकर पहना हुआ था। उसे निकर पहने देखकर प्रोफेसर ने उसे पूरी कक्षा के सामने कथित रूप से सजा देते हुए ‘‘ढंग के कपड़े पहनने को कहा।’’

फेसबुक पोस्ट में आरोप लगाया गया है कि जब छात्रा ने प्रोफेसर के पास जाकर उनकी टिप्पणी पर आपत्ति जतायी तो, फिर से उसका अपमान किया गया और उसपर भद्दी टिप्पणियां की गयीं। छात्रा का आरोप है कि प्रोफेसर ने छात्रा के चरित्र पर भी टिप्पणी की। इससे नाराज छात्रों ने कुलपति से इस मामले में हस्तक्षेप की मांग की।

अपनी राय कमेंट बॉक्स में दें