यूपी में भाजपा का करेंगे बंगाल जैसा हाल, किसान बना रहे रणनीति

जींद। उत्तर प्रदेश में अगले वर्ष होने वाले विधानसभा चुनाव को लेकर किसान संगठन रणनीति बनाने में जुटे हैं। गुरुवार को भारतीय किसान यूनियन के नेता राकेश टिकैत ने दावा किया कि उत्तर प्रदेश में भारतीय जनता पार्टी का हाल पश्चिम बंगाल जैसा होगा।

टिकैत ने जींद के उझाना गांव में एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि जो भी पार्टी अपने घोषणा पत्र में तीनों नए कृषि कानूनों को सही ठहराएगी, किसान उसका सूपड़ा साफ करने का काम करेंगे।

उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में बीजेपी का हाल पंचायत चुनाव से भी बुरा होगा और इसके लिए संयुक्त किसान मोर्चा ने रणनीति तैयार कर ली है।

टिकैत ने कहा कि जहां तक आंदोलन की सफलता की बात रही तो किसान सफल होने तक आंदोलन करेंगे, लेकिन हमें विश्वास है कि 2024 के बाद किसान आंदोलन नहीं करेंगे, क्योंकि तब तक तीनों कृषि कानून रद्द हो जाएंगे और कृषि उपज के न्यूनतम समर्थन मूल्य ( MSP ) की गारंटी पर कानून बन जाएगा।

इतना ही नहीं राकेश टिकैत ने दावा किया कि उत्तर प्रदेश के विधानसभा चुनाव में बीजेपी का सारा घमंड रखा रह जाएगा। वह किसानो को कमतर आंक रही है। चुनाव परिणामो से बीजेपी को किसानो की ताकत का अंदाजा हो जायेगा।

ये भी पढ़ें:  Bihar : बिहार के कई जिलों में बिजली गिरने से 18 लोगों की हुई मौत

इससे पहले टिकैत ने बद्दोवाल टोल प्लाजा पर प्रदर्शनकारियों को संबोधित करते हुए कहा कि हमें चुनाव के दौरान अपनी ताकत दिखानी होगी क्योंकि उत्तर प्रदेश, पंजाब, उत्तराखंड सहित कई राज्यों में चुनाव होने वाले हैं।

उन्होंने कहा कि तीनो कृषि कानून रद्द होने और एमएसपी पर कानून बनने तक किसान आंदोलन जारी रहेगा और किसानो के विरोध प्रदर्शन चलते रहेंगे। टिकैत ने कहा कि सरकार कान खोलकर सुनले कि मांगे पूरी होने तक किसान अपने घरों को नहीं जाएंगे।

अपनी राय कमेंट बॉक्स में दें
सत्य को ज़िंदा रखने की इस मुहिम में आपका सहयोग बेहद ज़रूरी है। आपसे मिली सहयोग राशि हमारे लिए संजीवनी का कार्य करेगी और हमे इस मार्ग पर निरंतर चलने के लिए प्रेरित करेगी। याद रखिये ! सत्य विचलित हो सकता है पराजित नहीं।
ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें