उत्तराखंड में चुनाव से पहले BJP को झटका, यशपाल आर्य और उनके बेटे की कांग्रेस में घर वापसी

नई दिल्ली। उत्तराखंड में अगले वर्ष होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी को बड़ा झटका लगा है। साल 2017 में विधानसभा चुनाव से पहले कांग्रेस छोड़ बीजेपी में आए यशपाल आर्य और उनके बेटे संजीव आर्य ने सोमवार को कांग्रेस में घर वापसी कर ली है।

6 बार के विधायक यशपाल आर्य राज्य सरकार में केबिनेट मंत्री थे उन्होंने कांग्रेस में शामिल होने के लिए मंत्रिमडंल से त्यागपत्र दे दिया। वहीँ उनके बेटे संजीव आर्य सत्तारूढ़ दल के विधायक हैं।

दिल्ली में कांग्रेस राष्ट्रीय प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला, अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के संगठन महासचिव केसी वेणुगोपाल और प्रदेश प्रभारी देवेंद्र यादव की उपस्थिति में प्रेस वार्ता में यशपाल और संजीव आर्य ने वापसी की। इस दौरान नेता प्रतिपक्ष प्रीतम सिंह, प्रदेश अध्यक्ष गणेश गोदियाल और पूर्व सीएम हरीश रावत भी मौजूद रहे।

उत्तराखंड में एन चुनाव से पहले यशपाल सिंह आर्य जैसे कद्दावर नेताओं के पार्टी छोड़ना बीजेपी के लिए एक बड़ा झटका माना जा रहा है। यशपाल आर्य को लेकर कहा जा रहा है कि वे पिछले कुछ दिनों से मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी से नाराज़ चल रहे थे। यशपाल आर्य को मनाने के लिए मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने हाल ही में यशपाल आर्य से मुलाकात भी की थी लेकिन यह मुलाकात कोई रास्ता नहीं निकाल पाई।

अपनी राय कमेंट बॉक्स में दें
सत्य को ज़िंदा रखने की इस मुहिम में आपका सहयोग बेहद ज़रूरी है। आपसे मिली सहयोग राशि हमारे लिए संजीवनी का कार्य करेगी और हमे इस मार्ग पर निरंतर चलने के लिए प्रेरित करेगी। याद रखिये ! सत्य विचलित हो सकता है पराजित नहीं।
ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें