यूपी की सभी सीटों पर चुनाव लड़ेगी शिवसेना, जनता को बताएगी बीजेपी की असलियत

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में अगले वर्ष होने वाले विधानसभा चुनाव को लेकर बीजेपी के समक्ष एक और नई मुश्किल खड़ी हो गई है। शिव सेना ने एलान किया है कि वह उत्तर प्रदेश में सभी सीटों पर चुनाव लड़ेगी।

उत्तर प्रदेश में शिव सेना की प्रदेश कार्यकारिणी की बैठक में लिए गए फैसले के मुताबिक शिव सेना प्रदेश की सभी 403 सीटों पर अपने उम्मीदवार खड़े करेगी। इतना ही नहीं बैठक में तय किया गया कि चुनाव में राम मंदिर निर्माण के लिए खरीदी गई ज़मींन में हुए कथित भ्रष्टाचार को शिवसेना जनता के समक्ष रखेगी।

बैठक में उत्तर प्रदेश के शिवसेना प्रमुख अनिल सिंह ने कहा कि, ‘ उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ब्राह्मणों के साथ सही तरह से इंसाफ़ नहीं कर रही है। शिवसेना ने यह भी आरोप लगाया कि बीजेपी शासन में यूपी में स्वास्थ्य सुविधाएं और शिक्षा व्यवस्था की हालत चरमरा गई है। बेरोजगारी और महंगाई से जनता त्रस्त हो चुकी है।

उन्होंने कहा कि योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व में बीजेपी की सरकार राज्य में कानून व्यवस्था को बनाए रखने में पूरी तरह से फेल हुई है। राज्य में लगातार महिलाएं असुरक्षित होती गई हैं।

ये भी पढ़ें:  मिशन 2024: कल होगी लालू-नीतीश की सोनिया से मुलाकात, कार्यक्रम तय

प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि विधानसभा चुनाव में जनता को बीजेपी की हकीकत बताई जायेगी। उन्होंने कहा कि शिव सेना सीएम योगी आदित्यनाथ की सीट सहित हर सीट पर बीजेपी को कड़ी टक्कर देगी।

गौरतलब है कि उत्तर प्रदेश में अगले वर्ष के शुरू में विधानसभा चुनाव संपन्न होने है। प्रदेश में समाजवादी पार्टी, कांग्रेस, बहुजन समाज पार्टी, आज़ाद समाज पार्टी, राष्ट्रीय लोकदल सहित तमाम राजनीतिक दल अभी से चुनावी मोड में आ गए हैं।

शिव सेना द्वारा प्रदेश की सभी सीटों पर अपने उम्मीदवार खड़े करने के एलान से बीजेपी को कई सीटों पर डेंट अवश्य लग सकता है। जानकारों की माने तो यदि प्रदेश में विपक्षी दलों का कोई गठबंधन बनता है तो महाराष्ट्र की तर्ज पर इस गठबंधन में भी शिव सेना को शामिल किया जा सकता है।

अपनी राय कमेंट बॉक्स में दें
सत्य को ज़िंदा रखने की इस मुहिम में आपका सहयोग बेहद ज़रूरी है। आपसे मिली सहयोग राशि हमारे लिए संजीवनी का कार्य करेगी और हमे इस मार्ग पर निरंतर चलने के लिए प्रेरित करेगी। याद रखिये ! सत्य विचलित हो सकता है पराजित नहीं।
ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें