राहुल का सरकार पर हमला: मोदी सरकार की इस योजना को बताया विकास के नाम पर धोखा

नई दिल्ली। पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने मोदी सरकार के खिलाफ अपने कड़े तेवर जारी रखते हुए कौशल विकास योजना को विकास के नाम पर धोखा करार दिया है।

उन्होंने ट्वीट करते हुए कहा, ”प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना यानि. जुमले देने में PM का कौशल, विकास के नाम पर धोखा. सरकार की ‘रोज़गार मिटाओ’ परियोजना।”

दिल्ली में पीड़ित परिवार से मिले राहुल:

वहीँ इससे पहले आज राहुल गांधी दिल्ली में 9 साल की बच्ची से रेप और हत्या के पीड़ित परिवार से भी मिले। राहुल गांधी ने मृतक पीड़िता के माता-पिता से अपनी गाड़ी में बैठकर बात की।

परिवार से मुलाकात के बाद कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा, मैंने परिवार से बात की और परिवार सिर्फ न्याय मांग रहा है। परिवार कह रहा है कि उन्हें न्याय नहीं मिल रहा है और उनकी पूरी मदद होनी चाहिए। जब तक उनको न्याय नहीं मिलेगा तब तक राहुल गांधी उनके साथ खड़ा है और एक इंच पीछे नहीं हटेगा।

गौरतलब है कि रविवार 9 साल की बच्ची शाम 5.30 बजे पुराने नांगल श्मशान घाट पर पानी भरने गई थी जब वह वापस नहीं लौटी तो उसकी मां ने तलाशा। इस बीच उसकी मां को पता चला कि बच्ची श्मशान घाट के अंदर मृत पड़ी है।

ये भी पढ़ें:  राहुल ने अंकिता कांड का उदाहरण देकर बताया बीजेपी महिलाओं के प्रति कितना सम्मान रखती है

बच्ची की मां का कहना है कि ये बात पंडित ने बताई कि बच्ची जब वाटरकूलर से पानी भर रही थी तो करंट लगने से उसकी मौत हो गई। पंडित के कहने पर बच्ची का वहीं अंतिम संस्कार किया गया। हालांकि गांव वालों को पता चलने पर वो इकट्ठा हुए और चिता पर पानी डाल कर अधजले शव को बाहर निकाला और मामले की जानकारी पुलिस को दी।

इस मामले में पुलिस ने मामले के मुख्य आरोपी राधे श्याम समेत 4 लोगों को गिरफ्तार कर लिया है. इसके खिलाफ एससीएसटी एक्ट के साथ साथ पॉस्को एक्ट और आईपीसी की धारा 376, 302, 342, 201, 506 और 34 के तहत एफआईआर दर्ज की गई है।

अपनी राय कमेंट बॉक्स में दें
सत्य को ज़िंदा रखने की इस मुहिम में आपका सहयोग बेहद ज़रूरी है। आपसे मिली सहयोग राशि हमारे लिए संजीवनी का कार्य करेगी और हमे इस मार्ग पर निरंतर चलने के लिए प्रेरित करेगी। याद रखिये ! सत्य विचलित हो सकता है पराजित नहीं।
ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें