प्रियंका गांधी लखनऊ पहुंची, मृतकों के परिजनों से मिलने सुबह जाएंगी लखीमपुर खीरी

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी में प्रदर्शनकारी किसानो को कार से रौंदने की घटना में 6 किसानो की मौत के बाद इलाके में तनाव है। इस बीच उत्तर प्रदेश कांग्रेस की प्रभारी महासचिव प्रियंका गांधी अब से थोड़ी देर पहले लखनऊ पहुंच गई हैं। वे कल सुबह तड़के लखीमपुर खीरी में मृतकों के परिजनों से मुलाकात करेंगी।

कांग्रेस सूत्रों के मुताबिक, कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी के साथ कांग्रेस के वरिष्ठ नेता प्रमोद तिवारी, दीपेंद्र हुड्डा, कांग्रेस विधायक दल की नेता आराधना मिश्रा मोना, प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू भी लखीमपुर खीरी पहुँच रहे हैं।

इस बीच उत्तर प्रदेश सरकार ने लखीमपुर खीरी में बढ़ते तनाव के मद्देनज़र इलाके में इंटरनेट सेवाएं अस्थाई तौर पर निलबित कर दी हैं। वहीँ मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भी अपना गोरखपुर दौरा बीच में ही छोड़कर लखनऊ पहुंच गए हैं।

वहीँ मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, लखीमपुर खीरी की घटना में अब तक 8 लोगों की मौत हो चुकी है और कई किसान अभी गंभीर रूप से घायल हैं। भारतीय किसान यूनियन के नेता राकेश टिकैत भी लखीमपुर खीरी के लिए रवाना हो चुके हैं। वे देर रात तक लखीमपुर खीरी पहुंचेंगे।

ये भी पढ़ें:  विधायक दल की बैठक से पहले गहलोत ने चला दांव, पायलट को रोकने की कोशिश जारी

गौरतलब है कि लखीमपुर खीरी में रविवार को जमकर बवाल हुआ। आरोप है कि यहां तिकुनिया में उप-मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य के काफिले को काला झंडा दिखा रहे किसानों पर केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्र टेनी के बेटे ने कार चढ़ा दी।

इस घटना में 8 लोगों की मौत की खबर है। मृतकों मे 6 किसान बताये जाते हैं। इसके अलावा जीप चला रहे ड्राइवर की भीड़ द्वारा पिटाई किये जाने से मौत होने की खबर है। माना जा रहा है कि लखीमपुर खीरी का मामला तूल पकड़ सकता है। उत्तर प्रदेश में अगले वर्ष के शुरू में विधानसभा चुनाव होने हैं ऐसे में कई दलों के बड़े नेताओं का लखीमपुर खीरी आना तय है।

अपनी राय कमेंट बॉक्स में दें
सत्य को ज़िंदा रखने की इस मुहिम में आपका सहयोग बेहद ज़रूरी है। आपसे मिली सहयोग राशि हमारे लिए संजीवनी का कार्य करेगी और हमे इस मार्ग पर निरंतर चलने के लिए प्रेरित करेगी। याद रखिये ! सत्य विचलित हो सकता है पराजित नहीं।
ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें