पश्चिम बंगाल: पांचवें चरण का चुनाव संपन्न, ममता ने बीजेपी पर लगाया फोन टेप करने का आरोप

कोलकाता। पश्चिम बंगाल में छिटपुट घटनाओं के बीच आज पांचवे चरण के चुनाव के लिए मतदान का काम संपन्न हो गया है। आज राज्य की 45 सीटों पर मतदान हुआ। चुनाव आयोग के मुताबिक पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव के पांचवें चरण में शाम 5:45 बजे तक 78.36% मतदान हुआ।

पांचवें चरण में आज हुए मतदान के दौरान छिटपुट घटनाओं को छोड़कर कुल मिलाकर मतदान शांतिपूर्वक संपन्न हुआ है। बीरभूमि और कमरहट्टी में बीजेपी उम्मीदवारों के काफिले पर हमले की खबर है।

मतदान के दौरान भारतीय जनता पार्टी के कमरहट्टी विधानसभा सीट के उम्मीदवार राजू बनर्जी पर हमला होने की खबर सामने आई है। बीजेपी का आरोप है कि राजू बनर्जी इलाके के एक मतदान केंद्र का जायजा लेने जा रहे थे, उसी समय रास्ते में नकाबपोश तृणमूल कार्यकर्ताओं ने उन पर हमला किया। भाजपा की शिकायत पर चुनाव आयोग ने जिला प्रशासन से रिपोर्ट मांगी है।

वहीँ बीरभूम जिला में भारतीय जनता पार्टी की एक महिला उम्मीदवार पर हमला हुआ है. उनकी कार के शीशे तोड़ दिये गये। मामला सैंथिया विधानसभा क्षेत्र का है। भाजपा की ओर से बताया गया है कि सैंथिया की भाजपा प्रत्याशी पिया साहा के काफिले में चल रही गाड़ियों पर तृणमूल के गुंडों ने हमला किया। गाड़ियों के शीशे तोड़ दिये. बम से हमला किया गया. घटना उस वक्त हुई।

ये भी पढ़ें:  कांग्रेस अध्यक्ष चुनाव: सबसे बड़े दावेदार के तौर पर दिग्विजय सिंह की एंट्री

नदिया जिला के शांतिपुर विधानसभा क्षेत्र के बूथ नंबर 21 पर इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन (इवीएम) बिगड़ जाने की वजह से वोटिंग रुकी रही। इसके बाद मतदाताओं ने बूथ पर काफी देर तक हंगामा काटा। बाद में ख़राब ईवीएम की जगह नई ईवीएम लगाकर मतदान शुरू कराया गया।

पीरजादा अब्बास सिद्दीकी की पार्टी इंडियन सेक्युलर फ्रंट (आइएसएफ) के कार्यकर्ताओं ने आरोप लगाया है कि देगंगा में सीआरपीएफ के जवानों ने बेवजह गोली चलायी। हालांकि, सीआरपीएफ ने फायरिंग की घटना से इनकार किया है। चुनाव आयोग ने इस पर रिपोर्ट मांगी है।

पूर्वी बर्दवान जिला के बर्दवान सदर थाना क्षेत्र के बर्दवान दक्षिण विधानसभा स्थित नीलापुर क्षेत्र में तृणमूल-भाजपा के बीच झड़प के बाद संघर्ष और मारपीट के बाद जमकर पथराव हुआ। पुलिस और केंद्रीय बलों की सख्ती के चलते अप्रिय घटना होने से टल गई। पुलिस और केंद्रीय बलों ने भीड़ को खदेड़ा।

ममता बनर्जी ने लगाया फोन टेपिंग का आरोप:

इस बीच पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने बीजेपी पर फोन टेपिंग करने का आरोप लगाया है। उन्होंने कहा कि वह इस मामले की आपराधिक अन्वेषण विभाग (सीआईडी) से जांच कराए जाने का आदेश देंगी।

गौरतलब है कि शुक्रवार को भाजपा ने एक कथित ऑडियो क्लिप जारी किया था, जिसमें बनर्जी सीतलकूची से तृणमूल कांग्रेस के उम्मीदवार से कथित तौर पर यह कहती सुनाई दे रही हैं कि वह केंद्रीय बलों की गोलीबारी में मारे गए चार लोगों के शवों के साथ रैलियां करें हालांकि तृणमूल कांग्रेस ने ऑडियो क्लिप को “फर्जी” करार देते हुए कहा कि इस तरह की कभी कोई बात नहीं हुई।

ये भी पढ़ें:  15 राज्यों में पीएफआई के 93 ठिकानो पर NIA और ED की छापेमारी

शनिवार को ममता बनर्जी ने कहा कि वे (भाजपा नेता) हमारी रोजाना की बातचीत भी छिप कर सुन रहे हैं, लगता है कि वे फोन पर होने वाली खाना बनाने और घर से अन्य कामों से जुड़ी हमारी बातों संबंधी कॉल भी टैप कर रहे है।”

टीएमसी सुप्रीमो ने कहा, “मैं इस मामले में सीआईडी जांच का आदेश दूंगी। मैं जासूसी संबंधी इस तरह की गतिविधियों में शामिल किसी को नहीं छोड़ूंगी। मुझे पता चल चुका है कि इसके पीछे कौन है।”

अपनी राय कमेंट बॉक्स में दें
सत्य को ज़िंदा रखने की इस मुहिम में आपका सहयोग बेहद ज़रूरी है। आपसे मिली सहयोग राशि हमारे लिए संजीवनी का कार्य करेगी और हमे इस मार्ग पर निरंतर चलने के लिए प्रेरित करेगी। याद रखिये ! सत्य विचलित हो सकता है पराजित नहीं।
ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें