लखनऊ: रेमडेसिविर के फर्जी इंजेक्शन बनाने वाले 5 लोग गिरफ़्तार

लखनऊ। कोरोना महामारी के बीच जहां लोग रेमडेसिविर इंजेक्शन न मिलने से परेशान हैं वहीँ कुछ लोगों ने रेमडेसिविर इंजेक्शन के फ़र्ज़ी इंजेक्शन बनाना भी शुरू कर दिया। पुलिस ने फ़र्ज़ी इंजेक्शन बनाने वाले 5 लोगों को गिरफ्तार किया है।

पुलिस ने फ़र्ज़ी इंजेक्शन बनाने के आरोपियों को अमीनाबाद से गिरफ्तार किया है। न्यूज़ एजेंसी एएनआई के मुताबिक, ये फर्जी इंजेक्शन तैयार कर कोरोना पीड़ित लोगों को बेचते थे। इनके पास से रेमडेसिविर इंजेक्शन की शीशी, इंजेक्शन के लेवल, 81,840 रुपए और एक मोटरसाइकिल बरामद हुई है।

पुलिस के मुताबिक, लखनऊ के अमीनाबाद की पुलिस टीम को फ़र्ज़ी इंजेक्शन बनाये जाने की जानकारी मिली। इस मामले में पुलिस ने जांच कर पूरी पुख्ता जानकारी मिलने के मनीष तिवारी उर्फ़ तपन, विकास कुमार दीक्षित पुत्र रमाशंकर, मोहित पांडेय पुत्र चंद्र प्रकाश पांडेय, प्रवीण वर्मा पुत्र रमाशंकर वर्मा और सुफियान पुत्र लवी अहमद को गिरफ्तार कर लिया।

पुलिस ने सभी आरोपियों को अलग अलग स्थानो से गिरफ्तार किया है। इनके पास से 202 अदद PIP T 4.5 GM INJ पैकेट तथा 59 अदद रेमडेसिविर इंजेक्शन तथा 4224 रेमडेसिविर इंजेक्शन के लेवल तथा 81,840 रुपए और एक मोटरसाइकिल बरामद हुई है।

ये भी पढ़ें:  देश के कई राज्यों में PFI के खिलाफ ऑपरेशन जारी, दिल्ली और यूपी से भी गिरफ्तारी

अपनी राय कमेंट बॉक्स में दें
सत्य को ज़िंदा रखने की इस मुहिम में आपका सहयोग बेहद ज़रूरी है। आपसे मिली सहयोग राशि हमारे लिए संजीवनी का कार्य करेगी और हमे इस मार्ग पर निरंतर चलने के लिए प्रेरित करेगी। याद रखिये ! सत्य विचलित हो सकता है पराजित नहीं।
ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें