ममता का बागियों को संदेश: हमारी ही सरकार बनेगी, गद्दारो को माफ़ी नहीं

कोलकाता। पश्चिम बंगाल में 8वे और अंतिम चरण के चुनाव के लिए आज प्रचार के अंतिम दिन तृणमूल कांग्रेस नेता और पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने पार्टी से बगावत करने वालो को कड़ा संदेश दिया है।

ममता बनर्जी ने चुनाव से पहले तृणमूल कांग्रेस से बगावत कर बीजेपी में शामिल हुए नेताओं को स्पष्ट संदेश देते हुए कहा कि पश्चिम बंगाल में एक बार फिर तृणमूल कांग्रेस की सरकार बनेगी तथा गद्दारी माफ़ नहीं की जायेगी।

ममता बनर्जी ने अपने बयान से बीजेपी गए तृणमूल नेताओं की वापसी के रास्ते बंद कर दिए हैं। उन्होंने कहा कि बंगाल में तृणमूल सरकार बनने के बाद गद्दारो के खिलाफ कार्रवाई पर विचार किया जायेगा। हम ऐसे गद्दारों को कभी माफ नहीं करेंगे, जिन्होंने राज्य की जनता के साथ धोखा किया है।

ममता बनर्जी ने एक बार फिर पश्चिम बंगाल में तृणमूल कांग्रेस के पूर्ण बहुमत के साथ सत्ता में वापसी का दावा किया। उन्होंने चुनाव आयोग और भारतीय जनता पार्टी पर भी निशाना साधा।

कोरोना महामारी के लिए चुनाव आयोग और पीएम मोदी को ज़िम्मेदार बताते हुए ममता बनर्जी ने कहा कि वह मन की बात तो कर रहे हैं, पर कोविड-19 की बात नहीं। आत्मनिर्भर भारत अब आत्मनिर्भर कोरोना हो गया है।

ये भी पढ़ें:  अध्यक्ष पद का चुनाव नहीं लड़ेंगे राहुल गांधी!, दिग्विजय सिंह ने कही ये बात

ममता बनर्जी ने पीएम मोदी पर सीधा हमला बोलते हुए कहा कि भारत ने कोरोना से बचाव की वैक्सीन बनायी और इसे देश के लोगों के लिए सुरक्षित रखने के बजाय प्रधानमंत्री ने वाहवाही के चक्कर में विदेशों को भेज दिया। देश के लोगों को क्या मिला?

वहीं चुनाव आयोग पर हमला बोलते हुए मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा कि बंगाल में लोगों को कोरोना की बलि चढ़ाने के लिए आठ चरणों में इतना लंबा चुनाव कराया जा रहा है? यदि यहां चुनाव पहले हो जाते, तो कोरोना महामारी इतनी नहीं फैलती। उन्होंने कहा कि आयोग ने एक पार्टी को लाभ पहुंचाने के लिए ऐसा किया है।

गौरतलब है कि पश्चिम बंगाल में 8 चरणों में विधानसभा चुनाव हो रहे हैं। अब तक 7 चरणों के चुनाव के लिए मतदान हो चुका है। 8वे चरण के चुनाव के लिए शुक्रवार को मतदान होगा।

अपनी राय कमेंट बॉक्स में दें
सत्य को ज़िंदा रखने की इस मुहिम में आपका सहयोग बेहद ज़रूरी है। आपसे मिली सहयोग राशि हमारे लिए संजीवनी का कार्य करेगी और हमे इस मार्ग पर निरंतर चलने के लिए प्रेरित करेगी। याद रखिये ! सत्य विचलित हो सकता है पराजित नहीं।
ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें