लालू यादव की ज़मानत याचिका पर पांचवी बार सुनवाई टली

रांची। बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री लालू प्रसाद यादव की ज़मानत याचिका पर झारखंड हाईकोर्ट में एक बार फिर सुनवाई टल गई है। चारा घोटाले से जुड़े दुमका कोषागार मामले में लालू यादव की ज़मानत याचिका पर 16 अप्रेल (शुक्रवार) को सुनवाई होनी थी लेकिन शुक्रवार को अदालत परिसर में सेनेटाइजेशन का काम होने के चलते सुनवाई टालनी पड़ी।

इस मामले में लालू यादव की ज़मानत याचिका पर चार बार सुनवाई टल चुकी है। लालू यादव को अब तक चारा घोटाले से जुड़े तीन मामलो में ज़मानत मिल चुकी है। चौथे और अंतिम दुमका कोषागार मामले में लालू यादव की याचिका पर सुनवाई होना शेष है।

लालू यादव की तरफ से ज़मानत के लिए दायर की गई याचिका में आधी सजा काटने और ख़राब सेहत का हवाला देते हुए ज़मानत की मांग की गई है। इस मामले में लालू यादव को ज़मानत ,मिलने के साथ ही उनके जेल से बाहर आने का रास्ता साफ़ हो जाएगा।

इस मामले में पिछले शुक्रवार, 9 अप्रेल को लालू यादव के वकील कपिल सिब्बल ने वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से कोर्ट के समक्ष अपनी बात रखी। उन्होंने कहा कि सीबीआई राजनीतिक कारणों से लालू को जेल में रखना चाहती है और इसीलिए वह इस मामले को जानबूझकर लटका रही है।

ये भी पढ़ें:  कॉमेडियन राजू श्रीवास्तव का निधन

कपिल सिब्बल की बहस के बाद सीबीआई की ओर से केन्द्र सरकार के अतिरिक्त महाधिवक्ता ने जवाब दाखिल करने के लिए समय की मांग की है। जिसे झारखंड उच्च न्यायालय के जज अपरेश कुमार सिंह ने स्वीकार कर लिया है।

उच्च न्यायालय ने सीबीआई से कहा कि वह इस मामले में 3 दिनों के अंदर अपना जवाब दाखिल करे। इसलिए अब लालू यादव की जमानत याचिका पर सुनवाई के लिए16 अप्रैल की तारीख तय की गई थी।

अपनी राय कमेंट बॉक्स में दें
सत्य को ज़िंदा रखने की इस मुहिम में आपका सहयोग बेहद ज़रूरी है। आपसे मिली सहयोग राशि हमारे लिए संजीवनी का कार्य करेगी और हमे इस मार्ग पर निरंतर चलने के लिए प्रेरित करेगी। याद रखिये ! सत्य विचलित हो सकता है पराजित नहीं।
ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें