कोरोना से संक्रमित वातावरण को शुद्ध करने के लिए हवन

उज्जैन(विशाल जैन)। कोरोना संक्रमित वातावरण को शुद्ध करने के लिए अब यज्ञ हवन का सहारा लिया जा रहा है। जिसके चलते एमआर-5 मार्ग पर बनी शारदा होम कॉलोनी में रहवासियों ने पूरी कॉलोनी के वातावरण को शुद्ध करने के लिए हवन पूजन किया है।

इस कार्यक्रम में शामिल हुए लोगों ने कहा कि शास्त्रों के अनुसार अनादि काल में वातावरण को शुद्ध करने के लिए हवन पूजन का उल्लेख किया गया है। इस समय देश दुनिया में कोरोना संक्रमण से वातावरण पूरी तरह से बिगड़ा हुआ है।

लोगों ने दावा किया कि कोरोना की अब तक स्थाई वैक्सीन नहीं बन पाई है, सिर्फ वैज्ञानिकों ने इम्यूनिटी सिस्टम बढ़ाने की वैक्सीन बनाई है। संक्रमण के नए स्टैंड सामने आ रहे हैं जिस पर वैज्ञानिकों से लेकर डॉक्टरों की टीम रिसर्च में लगी हुई है।

पिछले दिनों सोशल मीडिया पर संक्रमण के हवा में चलने की खबरें भी सामने आई थी उसके बाद अनादि काल में वातावरण को शुद्ध करने के लिए हवन पूजन के मैसेज भी सोशल मीडिया पर वायरल होने लगे थे। जिसका सहारा अब कई शहरों में लिया जाने लगा है धार्मिक नगरी की शारदा होम कॉलोनी से इस हवन पूजन की शुरुआत वातावरण को शुद्ध करने के लिए हो चुकी है।

ये भी पढ़ें:  कांग्रेस अध्यक्ष चुनाव: सबसे बड़े दावेदार के तौर पर दिग्विजय सिंह की एंट्री

कॉलोनी के रहवासियों ने आज कोरोना संक्रमण से वातावरण को शुद्ध करने के लिए गोबर से बने कंडे जला कर उस पर नीम, कपूर, लोंग के साथ हवन सामग्री की (धूप) अग्नि प्रज्वलित कर पूरी कॉलोनी के वातावरण को शुद्ध करने का प्रयास किया है।

गौरतलब हो कि सोशल मीडिया पर गुजरात के कई शहरों में बड़े स्तर पर इस तरह हवन पूजन कर वातावरण को शुद्ध किए जाने के वीडियो वायरल हो रहे हैं। जिस पर अब तक वैज्ञानिक और डॉक्टरों की कोई राय ही सामने नहीं आई है।

अपनी राय कमेंट बॉक्स में दें
सत्य को ज़िंदा रखने की इस मुहिम में आपका सहयोग बेहद ज़रूरी है। आपसे मिली सहयोग राशि हमारे लिए संजीवनी का कार्य करेगी और हमे इस मार्ग पर निरंतर चलने के लिए प्रेरित करेगी। याद रखिये ! सत्य विचलित हो सकता है पराजित नहीं।
ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें