पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतों को लेकर पेट्रोलियम मंत्री के खिलाफ केस दर्ज

नई दिल्ली। देश में पेट्रोल-डीजल की लगातार बढ़ती कीमतों को लेकर केंद्रीय पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान के खिलाफ मामला दर्ज कराया गया है। यह मामला बिहार के मुज़फ़्फ़रपुर में मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी की अदालत में दायर किया गया है।

इस मामले में शिकायतकर्ता, सोशल एक्टिविस्ट तमन्ना हाशमी ने पेट्रोल और डीजल की बढ़ती कीमतों में एक “साजिश” का आरोप लगाया है। उन्होंने कहा कि देश में पेट्रोल-डीजल की कीमतें उस समय भी लगातार बढ़ रही हैं जबकि अंतर्राष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की कीमत काफी कम है। हाशमी ने आगे आरोप लगाया कि पेट्रोल की कीमतों ने देश के लोगों को “परेशान” और “क्रोधित” कर दिया है।

उन्होंने केंद्रीय पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान के खिलाफ भारतीय दंड संहिता (आईपीसी) की विभिन्न धाराओं के तहत मुकदमा चलाने की मांग की है। इनमें धारा 420 (धोखाधड़ी), 295 और 295 (ए) जानबूझकर दुर्भावनापूर्ण कृत्यों से संबंधित और 511 (अपराध करने का प्रयास) शामिल हैं।

गौरतलब है कि देश में लगातार बढ़ती पेट्रोल और डीजल की कीमतों को लेकर सरकार की तरफ से अंतर्राष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की कीमतें बढ़ने का तर्क दिया जाता है। हालांकि यह बात भी सच है कि जब अंतर्राष्ट्रीय बाजार में तेल की कीमतें कम हुई हैं उस दौरान भी देश में पेट्रोल डीजल की कीमतें बढ़ती रही हैं।

ये भी पढ़ें:  अख़बारों से लुप्त होता साहित्य

देश में पेट्रोल डीजल की कीमतें बढ़ने को लेकर पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान अलग अलग तर्क देते रहे हैं। ऐसे में बड़ा सवाल यही उठता है कि जब अंतर्राष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की कीमतें गिर रही हैं तो देश में पेट्रोल डीजल की कीमतें प्रतिदिन क्यों बढ़ रही हैं।

अपनी राय कमेंट बॉक्स में दें
सत्य को ज़िंदा रखने की इस मुहिम में आपका सहयोग बेहद ज़रूरी है। आपसे मिली सहयोग राशि हमारे लिए संजीवनी का कार्य करेगी और हमे इस मार्ग पर निरंतर चलने के लिए प्रेरित करेगी। याद रखिये ! सत्य विचलित हो सकता है पराजित नहीं।
ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें