ममता बनर्जी का फरमान: बंगाल आने वाले केंद्रीय मंत्रियों को दिखानी होगी कोरोना नेगेटिव रिपोर्ट

कोलकाता। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पद संभालते ही एक्शन में दिखाई दे रही हैं। गुरूवार को ममता बनर्जी ने बीजेपी पर सीधा हमला बोला। उन्होंने कहा कि केंद्रीय मंत्री पश्चिम बंगाल में हिंसा भड़का रहे हैं और यही लोग बंगाल आकर कोरोना फैला रहे हैं।

ममता बनर्जी ने बंगाल में हिंसक घटनाओं का जायजा लेने के लिए केंद्र द्वारा भेजी गई केंद्रीय टीम को लेकर कहा कि बंगाल आने वाले केंद्रीय मंत्री को कोरोना नेगेटिव रिपोर्ट दिखानी होगी।

सीएम ममता कहा कि कोरोना के बढ़ते प्रकोप के बीच टीम यहां आई, चाय पीकर गई। अब अगर मंत्री यहां स्पेशल फ्लाइट से भी आते हैं तो उन्हें आरटीपीसीआर निगेटिव रिपोर्ट लाना होगा। उन्होंने कहा कि कोरोना यहां इसलिए बढ़ रहा है क्योंकि बीजेपी के नेता यहां लगातार आ रहे हैं।

ममता बनर्जी ने कहा कि पश्चिम बंगाल में चुनाव के बाद हिंसा में 16 लोगों की मौत हुई। इसमें आधे टीएमसी के हैं। उन्होंने हिंसा में मारे गए लोगों के परिवारों को दो लाख रुपये का मुआवजा देने का ऐलान भी किया।

ये भी पढ़ें:  राजस्थान का मामला हल करने के लिए दिल्ली में सोनिया के आवास जुटे कांग्रेस नेता

ममता बनर्जी ने कोरोना की फ्री टेस्टिंग को लेकर भी केंद्र सरकार पर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि ”मैंने जो चिट्ठी लिखी थी उसका अब तक जवाब नहीं आया है। वो टीका के लिए 30 हजार करोड़ क्यों नहीं आवंटित कर रहे हैं, जबकि नई संसद और मूर्तियों पर 20 हजार करोड़ रुपए खर्च किए जा रहे हैं।”

उन्होंने केंद्र से सवाल किया कि ”पीएम केयर्स फंड कहां है। पीएम मोदी युवाओं की जिंदगी को खतरे में क्यों डाल रहे हैं। उनके नेताओं को इधर उधर जाने की बजाए कोरोना अस्पतालों का दौरा करना चाहिए। उनके नेता यहां आ रहे हैं और कोविड फैला रहे हैं।”

गौरतलब है कि पश्चिम बंगाल में विधानसभा चुनाव परिणामो के एलान के बाद कई जगह हिंसा होने की ख़बरें आयी थीं। हालांकि ये घटनाएं उस समय हुईं जब ममता बनर्जी ने मुख्यमंत्री पद की शपथ ग्रहण नहीं की थी। ममता बनर्जी ने राज्य में कानून व्यवस्था को लेकर कहा था कि इस समय राज्य में कानून व्यवस्था का जिम्मा चुनाव आयोग देख रहा है।

अपनी राय कमेंट बॉक्स में दें
सत्य को ज़िंदा रखने की इस मुहिम में आपका सहयोग बेहद ज़रूरी है। आपसे मिली सहयोग राशि हमारे लिए संजीवनी का कार्य करेगी और हमे इस मार्ग पर निरंतर चलने के लिए प्रेरित करेगी। याद रखिये ! सत्य विचलित हो सकता है पराजित नहीं।
ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें