उज्जैन पुलिस का सराहनीय कार्य: विक्षिप्त महिला को उसके परिवार से मिलवाया

उज्जैन(विशाल जैन)। लॉकडाउन में सख्ती के बीच उज्जैन पुलिस ने एक ऐसा सराहनीय कार्य किया है कि उसकी जमकर तारीफ़ हो रही है। पुलिस ने एक विक्षिप्त महिला को उसके परिजनों से मिलाने में अहम भूमिका निभाई है।

उज्जैन की सीएसपी पल्लवी शुक्ला अपने सहयोगियों थाना प्रभारी अरविंद सिंह तोमर और सब इंस्पेक्टर गजेंद्र पचोरिया तथा सब इंस्पेक्टर सोना कुंवर के साथ निरीक्षण पर निकली थीं। इसी दौरान एक विक्षिप्त महिला के मिलने का मामला उनके संज्ञान में आया।

इस महिला की पहचान माधवी मेहता(64 वर्ष) पति स्वर्गीय गिरीश मेहता, निवासी पांडे परसावां खाना मगध मेडिकल, जिला गया (बिहार) के तौर पर हुई। थाना महाकाल क्षेत्र में निराश्रित रूप से घूमती हुई पाए जाने पर इस महिला को कुछ व्यक्तियों द्वारा थाना महाकाल पहुंचा दिया था।

इस महिला से पुलिस टीम ने बात की तो महिला के द्वारा अपना नाम माधवी मेहता निवासी गया बिहार बताया गया लेकिन वह अपने परिजनो के बारे में ज़्यादा जानकारी नहीं दे सकी। इस महिला का मेडिकल करवाकर सेवा धाम आश्रम अंबोदिया सुरक्षार्थ रखा गया।

महिला के पास में मिली डायरी में मिले मोबाइल नंबर पर उपनिरीक्षक गजेंद्र पचोरिया द्वारा संपर्क करते महिला की बेटी मनीषासिन्हा से संपर्क किया गया तथा महिला के परिजन बेटी दामाद को उज्जैन बुलाकर महिला माधवी कोसेवा धाम आश्रम से पुनः वापस लाकर माधवी महिला के बेटी दामाद को सुरक्षित सुपुर्द किया गया।

अपनी राय कमेंट बॉक्स में दें
सत्य को ज़िंदा रखने की इस मुहिम में आपका सहयोग बेहद ज़रूरी है। आपसे मिली सहयोग राशि हमारे लिए संजीवनी का कार्य करेगी और हमे इस मार्ग पर निरंतर चलने के लिए प्रेरित करेगी। याद रखिये ! सत्य विचलित हो सकता है पराजित नहीं।
ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें