कश्मीर में आतंकवाद: शिवसेना का मोदी सरकार पर हमला, कहा ‘कोरी धमकियों से नहीं चलेगा काम’

मुंबई। कश्मीर में हाल ही में हुई आतंकवाद की घटनाओं पर नाराज़गी जताते हुए शिवसेना ने केंद्र सरकार और बीजेपी को कटघरे में खड़ा किया है। शिवसेना सांसद संजय राउत ने कहा कि कोरी धमकियों से काम नहीं चलेगा, पाकिस्तान के खिलाफ कोई ठोस कार्रवाही करनी होगी।

सोमवार को पत्रकारों से बात करते हुए संजय राउत ने कहा कि कश्मीर में पिछले कुछ दिनों से परिस्थिति बिगड़ गई है। आतंकवाद फिर से बढ़ गया है। उन्होंने कहा कि कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाने के बाद भी परिस्थियां सुधरने का नाम नही ले रही हैं। सिख, कश्मीरी पंडित, बिहारी मजदूरों जैसे निर्दोष लोगों की हत्याएं हो रही हैं। इसकी जवाबदेही गृह मंत्रालय और केंद्र सरकार की है।

संजय राउत ने कहा कि ‘जब पाकिस्तान की इन हरकतों पर बात होती है तो सर्जिकल स्ट्राइक की धमकी दी जाती है। सिर्फ पाकिस्तान को धमकी देकर काम नही चलेगा। चीन ने भी लद्दाख में घुसपैठ की है। उस पर भी सर्जिकल स्ट्राइक करके दिखाएं।’

इतना ही नहीं शिव सेना सांसद ने केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार पर कश्मीर सहित लद्दाख में हालात को ठीक से नियंत्रित ना कर पाने का आरोप लगाया। संजय राउत ने कहा कि गृहमंत्री और रक्षामंत्री को देश को बताना चाहिए कि जम्मू-कश्मीर और लद्दाख के क्या हालात हैं।

ये भी पढ़ें:  देवीलाल की जयंती के बहाने जुटे विपक्ष के नेता, 2024 में बीजेपी को सत्ता से बाहर करने का संकल्प

जब पत्रकारों ने संजय राउत से पूछा कि कश्मीर में पाकिस्तान द्वारा जो एक बार फिर आतंकियों के घुसपैठ की घटनाएं शुरू हुई हैं, उसे देखते हुए क्या भारत को पाकिस्तान के साथ टी-20 वर्ल्ड कप मैच खेलना चाहिए? इसके जवाब में संजय राउत ने कहा कि, ‘अपने राजनीतिक सुविधा के अनुसार सरकार फैसला लेती है, जबकि वहां आम आदमी मारा जाता है। हम पहले से ही कह रहे हैं कि पाकिस्तान से किसी भी तरह का रिश्ता नहीं रखिए। वहां जाकर केक काटते हो, उन्हें गले लगाते हो।

संजय राउत ने कहा कि कश्मीर में परिस्थियां कभी भी सामान्य नहीं थी। सोशल मीडिया पर पाबंदी थी और स्थानीय नेता नज़रबंद थे। इसलिए ज्यादा चीजें निकलकर बाहर नहीं आयी। सरकार को इन मुद्दों पर सफाई देनी चाहिए।

गौरतलब है कि कश्मीर में आतंकियों ने हाल ही में कई आतंकवादी घटनाओं को अंजाम दिया गया है। कश्मीर में आतंकवादी घटनाओं में सिर्फ अक्टूबर महीने में ही अब तक 11 लोगों की मौत हो चुकी है।

हाल की घटनाओं में मारे लगे अधिकांश लोग दूसरे राज्यों के हैं। जो काम के सिलसिले में कश्मीर में रह रहे थे। शनिवार को ही आतंकियों ने बिहार के रहने वाले एक रेहड़ी-पटरीवाले की हत्या कर दी। शनिवार को ही कश्मीर के पुलवामा जिले में यूपी के सहारनपुर के रहने वाले एक कारपेंटर की हत्या कर दी गई।

अपनी राय कमेंट बॉक्स में दें
सत्य को ज़िंदा रखने की इस मुहिम में आपका सहयोग बेहद ज़रूरी है। आपसे मिली सहयोग राशि हमारे लिए संजीवनी का कार्य करेगी और हमे इस मार्ग पर निरंतर चलने के लिए प्रेरित करेगी। याद रखिये ! सत्य विचलित हो सकता है पराजित नहीं।
ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें