संसदीय दल की बैठक में कांग्रेस ने बनाई रणनीति, बजट सत्र में इन मुद्दों पर होगी सरकार की घेराबंदी

नई दिल्ली। कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी की अध्यक्षता में बुलाई गई कांग्रेस संसदीय दल की बैठक में पार्टी ने संसद के बजट सत्र को लेकर रणनीति तैयार की है। कांग्रेस ने संसद के बजट सत्र में कोरोना प्रभावित परिवारों के लिए राहत पैकेज , महंगाई , बेरोजगारी , किसानों से जुड़े मुद्दे , सीमा पर चीन के साथ गतिरोध और कुछ अन्य मुद्दों को लेकर सरकार को घेरने का फैसला किया है।

शुक्रवार को हुई वर्चुअली संपन्न हुई कांग्रेस संसदीय दल की बैठक में कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के अलावा राज्यसभा में नेता प्रतिपक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे , लोकसभा में कांग्रेस के नेता अधीर रंजन चौधरी, वरिष्ठ नेता एके एंटनी, केसी वेणुगोपाल, आनंद शर्मा, गौरव गोगोई, के सुरेश, जयराम रमेश, मणिकम टैगोर, मनीष तिवारी और रवनीत सिंह बिट्टू मौजूद थे।

संसद का बजट सत्र 2022 आगामी 31 जनवरी से शुरू होने जा रहा है। संसद के बजट सत्र का पहला चरण 31 जनवरी को राष्ट्रपति के अभिभाषण के साथ आरंभ होगा और एक फरवरी को बजट पेश होगा।

सूत्रों की माने तो बजट सत्र के दौरान कोरोना महामारी से प्रभावित परिवारों के लिए राहत पैकेज की मांग को कांग्रेस संसद के दोनों सदनों में पुरजोर तरीके से उठाएगी। सूत्रों ने कहा कि कांग्रेस लंबे समय से यह मांग कर रही है कि कोरोना वायरस की वजह से जान गंवाने वाले हर व्यक्ति के परिवार को चार लाख रुपये का मुआजवा दिया जाए। बजट सत्र में पार्टी इस मुद्दे पर प्रभावी तरीके से संसद में अपनी बात रखेगी।

ये भी पढ़ें:  ईदगाह मस्जिद में हनुमान चालीसा का पाठ करने के आह्वान पर मथुरा में सुरक्षा बढ़ाई गई

सूत्रों ने कहा कि कांग्रेस संसदीय दल की बैठक में तय हुआ कि सीमा पर चीन की बढ़ती आक्रमकता और उसके साथ चल रहे गतिरोध, महंगाई, बेरोजगारी, अर्थव्यवस्था की स्थिति, एयर इंडिया तथा दूसरी सरकार कंपनियों के निजीकरण तथा किसानों से जुड़े मुद्दों पर सरकार से जवाब मांगा जाएगा।

अपनी राय कमेंट बॉक्स में दें