टीएमसी सांसद का राज्यपाल पर अपने रिश्तेदारों और करीबियों को नौकरी देने का आरोप

कोलकाता। तृणमूल कांग्रेस सांसद महुआ मोइत्रा ने राज्य के राज्यपाल जगदीप धनकड़ पर राजभवन में अपने रिश्तेदारों और करीबियों को नौकरी देने का सनसनीखेज आरोप लगाया है।

महुआ मोइत्रा ने रविवार को एक ट्वीट करके राज्यपाल जगदीप धनखड़ के रिश्तेदारों और करीबियों को नौकरी देने का खुलासा किया। उन्होंने ट्वीट में राजभवन के उन कर्मचारियों का हवाला भी दिया जिन्हे नौकरी पर रखा गया है।

महुआ मोइत्रा ने ट्वीट में खुलासा किया कि पश्चिम बंगाल के राज्यपाल जगदीप धनखड़ के ओएसडी अभ्युदय सिंह शेखावत उनके साले के बेटे हैं। वहीँ उनके ओएसडी को-ऑर्डिनेशन अखिल चौधरी गवर्नर के करीबी रिश्तेदार हैं।

महुआ मोइत्रा के मुताबिक, ओएसडी एडमिनिस्ट्रेशन रूचि दुबे राज्यपाल के पूर्व एडीसी मेजर गौरंग दीक्षित की पत्नी हैं। इसके अलावा ओएसडी प्रोटोकॉल प्रशांत दीक्षित गवर्नर के पूर्व एडीसी के साले हैं तथा ओएसडी आईटी कौस्तव एस वालीकर राज्यपाल के एडीसी श्रीकांत जनार्दन राव के साले हैं। टीएमसी सांसद ने कहा कि हाल में ही नियुक्त हुए ओएसडी किशन धनखड़ भी राज्यपाल के करीबी रिश्तेदार हैं।

टीएमसी सांसद महुआ मोइत्रा का यह ट्वीट उस समय आया है जब पश्चिम बंगाल में ममता सरकार और राजभवन के बीच खींचतान चल रही है। इस बीच पश्चिम बंगाल के राज्यपाल जगदीप धनकड़ ने राज्य में चुनाव बाद हो रहीं हिंसा की घटनाओं को लेकर 7 जून को मुख्य सचिव को राजभवन तलब किया है।

ये भी पढ़ें:  आशा पारेख : दादा साहेब फाल्के पुरस्कार से सम्मानित हुईं आशा पारेख, बोलीं?...

राज्यपाल जगदीप धनखड़ ने रविवार को एक के बाद कई ट्वीट करके ममता बनर्जी के शासन में हो रही हिंसक घटनाओं पर नाराजगी जताई। जगदीप धनखड़ ने ट्वीट में बताया है कि राज्य में जारी हिंसक घटनाओं को देखते हुए 7 जून को मुख्य सचिव को राजभवन तलब किया गया है।

अपनी राय कमेंट बॉक्स में दें
सत्य को ज़िंदा रखने की इस मुहिम में आपका सहयोग बेहद ज़रूरी है। आपसे मिली सहयोग राशि हमारे लिए संजीवनी का कार्य करेगी और हमे इस मार्ग पर निरंतर चलने के लिए प्रेरित करेगी। याद रखिये ! सत्य विचलित हो सकता है पराजित नहीं।
ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें