जितिन प्रसाद ने कांग्रेस छोड़ी, बीजेपी में हुए शामिल

नई दिल्ली। उत्तर प्रदेश में अगले वर्ष होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले कांग्रेस को बड़ा झटका लगा है। टीम राहुल के सदस्य माने जाने वाले पूर्व केंद्रीय मंत्री जितिन प्रसाद ने कांग्रेस छोड़ दी है और वे भारतीय जनता पार्टी में शामिल हो गए हैं।

जितिन प्रसाद मनमोहन सिंह सरकार में मंत्री रह चुके हैं। इतना ही नहीं जितिन प्रसाद राष्ट्रीय सचिव के तौर पर भी पार्टी को अपनी सेवाएं दे चुके हैं। हाल ही में पश्चिम बंगाल में हुए विधानसभा चुनाव के दौरान जितिन प्रसाद को बंगाल के प्रभारी पद की ज़िम्मेदारी दी गई थी। हालांकि पश्चिम बंगाल में कांग्रेस अपना खाता भी नहीं खोल सकी।

वहीँ पार्टी सूत्रों की माने तो पश्चिम बंगाल का प्रभारी होने के बावजूद जितिन प्रसाद पश्चिम बंगाल में सक्रिय नहीं दिखे। वे चुनाव के दौरान दो-तीन बार ही पश्चिम बंगाल कांग्रेस की बैठकों में शामिल हुए।

जितिन प्रसाद ने उत्तर प्रदेश में हाल ही में ब्राह्मण चेतना परिषद नामक संगठन भी बनाया था और प्रदेश में ब्राह्मणो को जागरूक करने के लिए ब्राह्मण समाज की बैठकें भी आयोजित की थीं।

ये भी पढ़ें:  2024 में देश को बीजेपी मुक्त करने का केंद्र बनेगा बिहार: जनता दल यूनाइटेड

जितिन प्रसाद को लेकर काफी समय से अटकलें लगाई जा रही थीं। कांग्रेस में जितिन प्रसाद का कद भले ही कम न हुआ हो लेकिन उत्तर प्रदेश में पार्टी के हाशिये पर जाने के बाद जितिन प्रसाद के राजनैतिक भविष्य पर भी संकट के बादल मंडराने लगे थे।

माना जा रहा है कि अपने राजनैतिक भविष्य की खातिर ही जितिन प्रसाद ने भारतीय जनता पार्टी में शामिल होने का फैसला लिया है। लेकिन देखना है कि भारतीय जनता पार्टी की संस्कृति में जितिन प्रसाद खुद को कितना फिट कर पाते हैं।

जितिन प्रसाद को लेकर कहा जाता था कि वे टीम राहुल के भरोसेमंद सदस्यों में से एक हैं और उत्तर प्रदेश की प्रभारी महासचिव प्रियंका गांधी से भी उनकी नजदीकियां हैं। लेकिन इतना सब कुछ होने के बाद भी जितिन प्रसाद ने अंततः कांग्रेस छोड़ने का फैसला लिया है।

अपनी राय कमेंट बॉक्स में दें
सत्य को ज़िंदा रखने की इस मुहिम में आपका सहयोग बेहद ज़रूरी है। आपसे मिली सहयोग राशि हमारे लिए संजीवनी का कार्य करेगी और हमे इस मार्ग पर निरंतर चलने के लिए प्रेरित करेगी। याद रखिये ! सत्य विचलित हो सकता है पराजित नहीं।
ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें