BJP के खिलाफ विपक्ष के गठबंधन में कांग्रेस को नज़रअंदाज नहीं किया जा सकता: पवार

मुंबई। 2024 के आम चुनाव में बीजेपी के खिलाफ विपक्ष को एकजुट करने की कोशिशों में लगे राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) सुप्रीमो शरद पवार ने कहा कि बीजेपी के खिलाफ  वैकल्पिक गठबंधन के लिए कांग्रेस का साथ ज़रूरी है।

विपक्ष को एकजुट करने के लिए हाल ही में राष्ट्र मंच के नेता यशवंत सिन्हा ने शरद पवार के आवास पर विपक्षी दलों के नेताओं की बैठक बुलाई थी। इतना ही नहीं इससे पहले शरद पवार और चुनाव रणनीतिकार प्रशांत किशोर की बैठक भी हो चुकी है।

यशवंत सिन्हा द्वारा शरद पवार के आवास पर बुलाई गई विपक्ष की बैठक में कांग्रेस के शामिल न होने के बाद तीसरे मोर्चे के गठन को लेकर चर्चाएं गर्म हुई थीं लेकिन आज एनसीपी सुप्रीमो शरद पवार ने तीसरा मोर्चा बनाये जाने की सभी संभावनाओं पर विराम लगा दिया।

शरद पवार ने अपने आवास पर बुलाई गई राष्ट्र मंच की बैठक को लेकर कहा कि ‘बैठक में (राष्ट्र मंच) गठबंधन पर चर्चा नहीं हुई है, लेकिन यदि वैकल्पिक ताकत खड़ी की जाएगी तो कांग्रेस को साथ रखकर ही ऐसा किया जाएगा। हमें इस तरह की ताकत की जरूरत है और मैंने इसे बैठक में भी कहा था।”

ये भी पढ़ें:  गहलोत का यूटर्न, कल नामांकन दाखिल करेंगे दिग्विजय सिंह, निर्विरोध निर्वाचित होने की संभावना

क्या वह वैकल्पिक गठबंधन का चेहरा वह होंगे, इस पर पवार ने कहा कि हमने अभी इस पर चर्चा नहीं हुए है, लेकिन मुझे लगता है कि सामूहिक नेतृत्व की भूमिका निभाते हुए हमें आगे बढ़ना होगा। मैंने यह वर्षों तक किया लेकिन अभी मैं सभी को एक साथ रखने, उनका मार्गदर्शन करने और उन्हें मजबूत करने के लिए काम करूंगा।

वहीं कांग्रेस द्वारा महाराष्ट्र में अगला विधानसभा चुनाव अकेले लड़ने के एलान को लेकर पूछे गए सवाल के जबाव में शरद पवार ने कहा कि ‘हर राजनीतिक पार्टी को विस्तार का अधिकार है। पार्टी कार्यकर्ताओं का मनोबल बढ़ाने के लिए भी हम इस तरह की बातें कहते हैं। इसी तरह यदि कांग्रेस भी ऐसा कहती है तो हम इसका स्वागत करते हैं, क्योंकि यह उनका अधिकार है।”

गौरतलब है कि पश्चिम बंगाल में ममता बनर्जी द्वारा बीजेपी को दी गई करारी शिकस्त के बाद अब 2024 में बीजेपी के खिलाफ विपक्ष के संयुक्त मोर्चा बनाये जाने की कोशिशें तेज हो गई हैं। तृणमूल कांग्रेस में शामिल हो चुके पूर्व केंद्रीय मंत्री यशवंत सिन्हा ने विपक्षी दलों को बीजेपी के खिलाफ एकजुट करने के लिए हाल ही में शरद पवार के आवास पर विपक्ष की बैठक बुलाई थी। हालांकि इस बैठक में कांग्रेस का कोई प्रतिनिधि शामिल नहीं हुआ था।

अपनी राय कमेंट बॉक्स में दें
सत्य को ज़िंदा रखने की इस मुहिम में आपका सहयोग बेहद ज़रूरी है। आपसे मिली सहयोग राशि हमारे लिए संजीवनी का कार्य करेगी और हमे इस मार्ग पर निरंतर चलने के लिए प्रेरित करेगी। याद रखिये ! सत्य विचलित हो सकता है पराजित नहीं।
ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें