पीएम की समीक्षा बैठक: चिदंबरम बोले, बंगाल से फुर्सत निकालकर कोरोना पर ध्यान देने का शुक्रिया

नई दिल्ली। शनिवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा देश में कोरोना की स्थिति को लेकर बुलाई गई समीक्षा बैठक को लेकर पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम ने तंज कसा है। चिदंबरम ने ट्वीट कर कहा कि ‘पश्चिम बंगाल को जीतने की जरूरी जंग और उसे भाजपा के साम्राज्य में मिलाने के दौरान कोविड के लिए थोड़ा सा वक्त निकालने के लिये शुक्रिया।’

इतना ही नहीं चिदंबरम ने एक अन्य ट्वीट में पूर्व वित्त मंत्री ने ममता बनर्जी पर प्रधानमंत्री मोदी की टिप्पणी का जिक्र करते हुए कहा कि क्या प्रधानमंत्री को इस लहजे में किसी मुख्यमंत्री का जिक्र करना चाहिए? उन्होंने कहा, ‘मैं जवाहर लाल नेहरू या मोरारजी देसाई या अटल बिहारी वाजपेयी इस तरह की भाषा का इस्तेमाल करते, यह सोच भी नहीं सकता।

पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम ने प्रधानमंत्री की शनिवार को समीक्षा बैठक के बाद कहा,’देश जिस आपदा का सामना कर रहा है उसके लिए केवल केन्द्र सरकार जिम्मेदार है।’

उन्होंने कहा कि संक्रमण का प्रसार व्यापक पैमाने पर टीकाकरण करके ही रोका जा सकता है लेकिन यह दुखद है कि टीकों की कमी है और राज्यों के पास या तो टीके समाप्त हो गए हैं या होने वाले हैं।

ये भी पढ़ें:  अशोक गहलोत दिल्ली के लिए रवाना, पूर्व रक्षा मंत्री एंटनी सोनिया से मिले

ममता बनर्जी ने भी लगाया आरोप:

वहीँ पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने देश में ऑक्सीजन और रेमडेसिविर इंजेक्शन की कमी को लेकर मोदी सरकार पर सीधा हमला बोला है।रविवार को पश्चिम बंगाल में एक चुनावी सभा को संबोधित करते हुए ममता बनर्जी ने कहा कि देश में रेमडेसिविर और ऑक्सीजन की कमी है।

उन्होंने कहा कि आज हमारे देश में कोई दवा नहीं है लेकिन 80 देशों में दवाएं भेजी गईं। आप दवाएं भेज रहे हैं तो मुझे कोई समस्या नहीं है लेकिन पहले अपने राष्ट्र को उपलब्ध कराएं। आप अपना नाम गौरवान्वित करने के लिए ऐसा कर रहे हैं।

अपनी राय कमेंट बॉक्स में दें
सत्य को ज़िंदा रखने की इस मुहिम में आपका सहयोग बेहद ज़रूरी है। आपसे मिली सहयोग राशि हमारे लिए संजीवनी का कार्य करेगी और हमे इस मार्ग पर निरंतर चलने के लिए प्रेरित करेगी। याद रखिये ! सत्य विचलित हो सकता है पराजित नहीं।
ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें