आज़म खान की मुश्किलें बढ़ीं, जौहर यूनिवर्सिटी की खुदाई में मिली नगर पालिका की मशीन

रामपुर। समाजवादी पार्टी के कद्दावर नेता और पूर्व केबिनेट मंत्री आज़म खान की मुश्किलें फिर बढ़ सकती हैं। यहां जौहर यूनिवर्सिटी में पहुंचे बुलडोजर से खुदाई में नगर पालिका की करोडो रूपये कीमत की सफाई करने वाली मशीन मिली है। इस मामले में पुलिस आजम खान, अब्दुल्ला आजम समेत सात लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की है।

दरअसल, समाजवादी पार्टी की सरकार के दौरान रामपुर नगर पालिका के लिए सफाई करने की एक मशीन खरीदी गई थी, जिसकी कीमत करोडो में बताई जाती है। आरोप है कि इस मशीन का इस्तेमाल नगर पालिका के काम में नहीं बल्कि जौहर यूनिवर्सिटी में किया जा रहा था।

2017 के चुनाव में राज्य में भाजपा सरकार आने के बाद नगर पालिका की करोडो की मशीन गायब होने का मामला सामने आया। आरोप है कि इस मशीन को काटकर जौहर यूनिवर्सिटी की ज़मीन के अंदर दबा दिया गया था।

जुआ खेलने के आरोप में पकड़े गए दो लोगों ने पूछताछ में इस मशीन को लेकर भी खुलासा किया था। उनकी निशानदेही पर सोमवार को जौहर यूनिवर्सिटी में खुदाई कर मशीन बरामद की गई। दोनों आरोपी अब्दुल्ला आज़म के करीबी बताये जाते हैं।

एडिशनल एसपी संसार सिंह ने मीडिया को बताया कि जुए के आरोप में दो अभियुक्त पकड़े गए थे, जिसमें एक का नाम सालिम है और दूसरे का अनवार है। यह दोनों आजम के विधायक बेटे अब्दुल्ला के बहुत नजदीकी हैं। गिरफ्तार दोनों लोगों ने कई अन्य खुलासे भी किये हैं। मामला कोतवाली में पंजीकृत किया गया है।

ये भी पढ़ें:  पूर्व सीएम शंकर सिंह वाघेला बोले, "आरएसएस से जुड़े हैं केजरीवाल, बीजेपी के लिए करते हैं काम"

अपनी राय कमेंट बॉक्स में दें