महंगाई से जूझ रहे आम आदमी पर अब महंगी सीएनजी का बोझ

नई दिल्ली। कोरोना महामारी के बीच काम धंधे ठप्प होने से आजीविका चलाने में हो रही दिक्क्त के बीच आम आदमी की जेब पर एक और बोझ बढ़ गया है। पेट्रोल-डीजल और रसोई गैस के बाद अब सीएनजी और पीएनजी की कीमतों में भी बढ़ोत्तरी की गई है।

दिल्ली में सीएनजी (कंप्रेस्ड प्राकृतिक गैस) की कीमत में 90 पैसे प्रति किलो की बढ़ोतरी की गई है। जिसके बाद दिल्ली में सीएनजी का दाम 43.40 प्रति किलो से बढ़कर 44.30 रुपये प्रति किलो पहुंच गया है।

सीएनजी के साथ पाइप से पहुंचाई जाने वाली घरेलू रसोई गैस (पीएनजी) का भाव भी बढ़ गया है। बढ़े हुए दामों के साथ आज दिल्ली में पीएनजी की कीमत 29.66 रुपये प्रति घन मीटर पहुंच गई है। वहीं नोएडा, ग्रेटर नोएडा और गाजियाबाद में पीएजी की घरेलू कीमत आज से 29.61 रुपये प्रति एससीएम होगी। सीएनजी और पीएनजी के नए दाम बुधवार देर रात 12 बजे से लागू हो हुए हैं।

सीएनजी की कीमतों में बढ़ोतरी के बाद आईजीएल ने ट्विट में कहा “दिल्ली में पेट्रोल-डीजल की कीमतों में संशोधन के बाद यदि इससे तुलना करें तो सीएनजी, पेट्रोल के मुकाबले 68 प्रतिशत और डीजल की तुलना में 50 प्रतिशत की बचत प्रदान करता है।”

ये भी पढ़ें:  तेलंगाना: मुसलमानो के लिए रिजर्वेशन की मांग पर अड़े ओवैसी

गौरतलब है कि पेट्रोल डीजल की कीमतों में हो रही बढ़ोत्तरी के बाद देश की राजधानी दिल्ली सहित कई शहरो में पेट्रोल की कीमत 100 रुपये प्रति लीटर को पार कर गई है। वहीँ अब सीएनजी और पीएनजी की कीमतें बढ़ने से आम आदमी की जेब पर अतिरिक्त बोझ बढ़ेगा।

देश में महंगाई कम करने के चुनावी वादे के साथ 2014 के लोकसभा चुनाव में जीत हासिल करने वाली भारतीय जनता पार्टी के नेतृत्व वाली केंद्र सरकार पेट्रोल-डीजल की कीमतों में बढ़ोत्तरी को लेकर अंतर्राष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की कीमतें बढ़ने को कारण बता रही है।

अपनी राय कमेंट बॉक्स में दें
सत्य को ज़िंदा रखने की इस मुहिम में आपका सहयोग बेहद ज़रूरी है। आपसे मिली सहयोग राशि हमारे लिए संजीवनी का कार्य करेगी और हमे इस मार्ग पर निरंतर चलने के लिए प्रेरित करेगी। याद रखिये ! सत्य विचलित हो सकता है पराजित नहीं।
ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें