यूपी सरकार झुकी, प्रियंका गांधी को मिली आगरा जाने की अनुमति

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के आगरा में पुलिस हिरासत में एक दलित की मौत के बाद उसके परिजनों से मिलने आगरा जा रहीं कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी को दो घंटे हिरासत में रहने के बाद आगरा जाने की अनुमति मिल गई है।

प्रियंका गांधी लखनऊ से आगरा के लिए निकलीं थीं लेकिन पुलिस ने उन्हें लखनऊ एक्सप्रेस-वे पर हिरासत में ले लिया था। प्रियंका गांधी आगरा में पुलिस हिरासत में मारे गए अरुण वाल्मीकि के परिजनों से मिलने जा रही थीं।

करीब दो घंटे की हिरासत के बाद आखिर यूपी सरकार को प्रियंका गांधी तथा अन्य कांग्रेस नेताओं को आगरा जाने की अनुमति देनी पड़ी। जानकारी के मुताबिक, प्रियंका गांधी तथा अन्य कांग्रेस नेता आज ही पीड़ित परिवार के सदस्यों से मिलेंगे।

इससे पहले पुलिस द्वारा लखनऊ एक्सप्रेस-वे पर हिरासत में लिए जाने की जानकारी देते हुए प्रियंका गांधी ने ट्वीट कर कहा कि अरुण वाल्मीकि की मृत्यु पुलिस हिरासत में हुई। उनका परिवार न्याय मांग रहा है। मैं परिवार से मिलने जाना चाहती हूं। उत्तर प्रदेश सरकार को डर किस बात का है? क्यों मुझे रोका जा रहा है।

ये भी पढ़ें:  बड़ी खबर: PFI गैर कानूनी संगठन घोषित, सरकार ने 5 साल के लिए पाबंदी लगाई

प्रियंका गांधी ने कहा कि आज भगवान वाल्मीकि जयंती है, पीएम ने महात्मा बुद्ध पर बड़ी बातें की, लेकिन उनके संदेशों पर हमला कर रहे हैं। उन्होंने पूछा कि क्या आगरा में पुलिस हिरासत में मारे गए अरुण वाल्मीकि के लिए न्याय मांगना अपराध है? भाजपा सरकार की पुलिस मुझे आगरा जाने से क्यों रोक रही है। क्यों हर बार न्याय की आवाज को दबाने की कोशिश की जाती है? मैं पीछे नहीं हटूंगी।

इसके पहले प्रियंका ने कहा था कि किसी को पुलिस कस्टडी में पीट-पीटकर मार देना कहां का न्याय है? आगरा पुलिस कस्टडी में अरुण वाल्मीकि की मौत की घटना निंदनीय है। भगवान वाल्मीकि जयंती के दिन उप्र सरकार ने उनके संदेशों के खिलाफ काम किया है। उच्चस्तरीय जांच व पुलिस वालों पर कार्रवाई हो व पीड़ित परिवार को मुआवजा मिले।

अपनी राय कमेंट बॉक्स में दें
सत्य को ज़िंदा रखने की इस मुहिम में आपका सहयोग बेहद ज़रूरी है। आपसे मिली सहयोग राशि हमारे लिए संजीवनी का कार्य करेगी और हमे इस मार्ग पर निरंतर चलने के लिए प्रेरित करेगी। याद रखिये ! सत्य विचलित हो सकता है पराजित नहीं।
ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें