टीएमसी उम्मीदवार की मौत, पत्नी ने चुनाव आयोग के अधिकारियों के खिलाफ लिखाई रिपोर्ट

कोलकाता। पश्चिम बंगाल में तृणमूल कांग्रेस उम्मीदवार की कोरोना से हुई मौत को लेकर उम्मीदवार की पत्नी ने उपचुनाव आयुक्त सुदीप जैन और अन्य अधिकारियों के खिलाफ पुलिस में शिकायत दर्ज कराई है।

गौरतलब है कि पश्चिम बंगाल के खारदा विधानसभा सीट से तृणमूल कांग्रेस के उम्मीदवार काजल सिन्हा का रविवार को कोरोना से निधन हो गया था। बंगाल चुनाव के दौरान कोरोना वायरस की वजह से अब तक तीन उम्मीदवारों की मौत हो चुकी है।

तृणमूल कांग्रेस उम्मीदवार काजल सिन्हा के निधन को लेकर उनकी पत्नी नंदिता सिन्हा ने कोरोना महामारी के बीच चुनाव कराये जाने को कारण बताते हुए उपचुनाव आयुक्त सुदीप जैन और अन्य अधिकारियों के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज करने के लिए पुलिस में शिकायत दर्ज कराई है।

नंदिता सिन्हा ने अपनी शिकायत में आरोप लगाया है कि चुनाव आयोग ने कोरोना महामारी को अनदेखा करते हुए चुनाव कराये। जिसके कारण उनके पति कोरोना संक्रमित हो गए। ऐसे में वह राज्य चुनाव आयोग के अधिकारियों को अपने पति की मौत का दोषी मानती हैं।

इससे पहले तृणमूल कांग्रेस की अध्यक्ष और मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने भी कोरोना महामारी के बीच पश्चिम बंगाल में आठ चरण में चुनाव कराये जाने के लिए चुनाव आयोग के फैसले पर सवाल उठा चुकी हैं। ममता बनर्जी ने एलान किया है कि वे चुनाव संपन्न होने के बाद इस मामले को लेकर सुप्रीमकोर्ट जाएंगी।

ये भी पढ़ें:  कांग्रेस अध्यक्ष चुनाव: सबसे बड़े दावेदार के तौर पर दिग्विजय सिंह की एंट्री

वहीँ कोरोना महामारी के बीच हुए पांच राज्यों के विधानसभा चुनाव में कोरोना गाइडलाइन का पालन नहीं होने को लेकर हाल ही में मद्रास हाईकोर्ट ने भी चुनाव आयोग को कड़ी फटकार लगाई थी। हाईकोर्ट ने चुनाव आयोग पर कड़ी टिप्पणी करते हुए कहा था कि चुनाव आयोग के अधिकारीयों के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज किया जाए तब भी कम होगा।

अपनी राय कमेंट बॉक्स में दें
सत्य को ज़िंदा रखने की इस मुहिम में आपका सहयोग बेहद ज़रूरी है। आपसे मिली सहयोग राशि हमारे लिए संजीवनी का कार्य करेगी और हमे इस मार्ग पर निरंतर चलने के लिए प्रेरित करेगी। याद रखिये ! सत्य विचलित हो सकता है पराजित नहीं।
ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें