क्या संजय राउत ने राहुल को बता दिया बीजेपी की नाभि के अमृत का राज ?

नई दिल्ली। हाल ही में शिवसेना के प्रवक्ता और राज्य सभा सांसद संजय राउत और पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के बीच हुई मुलाकात को लेकर तरह तरह के कयासों के बीच शुक्रवार को राहुल गांधी की अगुवाई में 14 दलों के नेताओं ने जंतर मंतर पहुंच कर आंदोलनकारी किसानो को अपना समर्थन व्यक्त किया।

राहुल गांधी ने हाल ही में विपक्षी दलों के नेताओं को ब्रेकफास्ट पर आमंत्रित कर पेगासस जासूसी और कृषि कानूनों को लेकर संसद में विपक्षी दलों की रणनीति को लेकर चर्चा की थी। वहीँ विपक्षी दलों के नेताओं के साथ हुई ब्रेफास्ट बैठक से दो दिन पहले ही शिव सेना सांसद संजय राउत और कांग्रेस नेता राहुल गांधी के बीच मुलाक़ात हुई थी।

दोनों नेताओं के बीच हुई इस मुलाकात को लेकर कांग्रेस की तरफ से मीडिया को कोई जानकारी नहीं दी गई, हालांकि शिव सेना सांसद संजय राउत ने इस मुलाकात के बाद मीडिया से बात करते हुए कहा कि “हमारे बीच कुछ समय से बैठक होने वाली थी। उन्हें (राहुल गांधी) कुछ संदेह थे जिन्हें अब दूर कर दिया गया है। उन्होंने जल्द ही महाराष्ट्र का दौरा करने का आश्वासन दिया है।’’

ये भी पढ़ें:  पायलट के खिलाफ लामबंद हुए गहलोत समर्थक विधायक, अब खुलकर बोल रहे ये बात

दरअसल संजय राउत और राहुल गांधी की मुलाक़ात बीते सोमवार यानि कि 3 अगस्त को हुई थी, वहीँ इसके अगले ही दिन राहुल गांधी ने विपक्षी दलों के नेताओं को कॉन्स्टीट्यूशन क्लब में ब्रेकफास्ट पार्टी पर बुलाया था। इस बैठक में शिव सेना सांसद संजय राउत भी शामिल हुए थे।

शिवसेना नेता संजय राउत और पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के बीच हुई इस मुलाकात के कई सियासी मायने निकाले जा रहे हैं। माना जा रहा है कि 2024 के आम चुनावो के लिए विपक्ष के बनने वाले गठबंधन को लेकर यह बैठक अहम थी।

खुद शिवसेना सांसद संजय राउत ने मीडिया से बातचीत में ऐसे संकेत दिए। संजय राउत ने कहा कि “मैं अपने पार्टी प्रमुख (उद्धव ठाकरे) को अगले आम चुनाव से पहले संभावित गठबंधन पर हुई चर्चा के बारे में जानकारी दूंगा।’’

संजय राउत ने यह भी कहा कि राहुल गांधी शिवसेना और इसके संस्थापक दिवंगत बाला साहेब ठाकरे के बारे में जानने के लिए उत्सुक थे। उन्होंने इसके बारे में जानकारी ली।

वहीँ कांग्रेस सूत्रों की माने तो राहुल गांधी से अपनी संक्षिप्त मुलाकात में संजय राउत ने राहुल गांधी को वो केमिस्ट्री समझा दी, जिससे बीजेपी को धराशाही किया जा सकता है।

सूत्रों के मुताबिक, संजय राउत ने बीजेपी के खिलाफ विपक्ष की लड़ाई के लिए राहुल गांधी को शिव सेना की तरफ से पूरा समर्थन व्यक्त करते हुए राष्ट्रीय स्तर पर विपक्ष का साझा गठबंधन बनाने के लिए विपक्ष की अगुवाई करने के लिए कहा। सूत्रों ने कहा कि संजय राउत ने कहा कि यदि 2024 के चुनाव में विपक्ष का कोई गठबंधन बनता है तो शिवसेना उसमे शामिल रहेगी।

ये भी पढ़ें:  5G Launched In India : PM मोदी ने भारत में लॉन्च की 5G सर्विस

सूत्रों ने कहा कि संजय राउत इस मुलाकात में राहुल गांधी को यह भरोसा भी दिलाया कि महाराष्ट्र में उद्धव ठाकरे के नेतृत्व वाली महाविकास अघाड़ी सरकार कांग्रेस और एनसीपी द्वारा अपने चुनावी घोषणा पत्र में किये गए वादों को प्रमुखता से पूरा करेगी।

यहां यह बताना भी ज़रूरी है कि एक सहयोगी दल के तौर पर शिवसेना डेढ़ दशक से अधिक समय तक बीजेपी के साथ रही है। ज़ाहिर है सहयोगी दल के तौर पर शिवसेना को बीजेपी के वो राज भी पता होंगे जिसके बूते वह चुनाव दर चुनाव फतह हासिल करती रही है।

फिलहाल यह तो दिखाई दे रहा है कि पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी पिछले कुछ दिनों से विपक्ष की अगुवाई करते नज़र आ रहे हैं और उनके मोदी सरकार और बीजेपी पर हमले पहले से कहीं अधिक धारदार हैं।

अपनी राय कमेंट बॉक्स में दें
सत्य को ज़िंदा रखने की इस मुहिम में आपका सहयोग बेहद ज़रूरी है। आपसे मिली सहयोग राशि हमारे लिए संजीवनी का कार्य करेगी और हमे इस मार्ग पर निरंतर चलने के लिए प्रेरित करेगी। याद रखिये ! सत्य विचलित हो सकता है पराजित नहीं।
ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें