वैक्सीन पर सरकार की टेक्स बसूली: राहुल गांधी ने साधा केंद्र पर निशाना

नई दिल्ली। राज्यों को दी जाने वाली कोरोना वैक्सीन पर जीएसटी चार्ज किये जाने को लेकर हुए खुलासे के बाद पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने केंद्र सरकार पर सीधा निशाना साधा है।

राहुल गांधी ने ट्वीट कर कहा कि जनता के प्राण जाए पर पीएम की टैक्स वसूली ना जाए। इस ट्वीट के साथ राहुल गांधी ने हैशटैग जीएसटी भी लगाया है। इससे पहले ओडिशा के सीएम नवीन पटनायक ने भी वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण को पत्र लिखकर वैक्सीन की खरीद पर लगने वाले जीएसटी को माफ करने की मांग की थी।

गौरतलब है कि केंद्र सरकार ने विदेशों से आने वाली सभी कोरोना वैक्सीन पर जीएसटी हटा दिया है, लेकिन देश के अंदर वैक्सीन की खरीद पर अब भी जीएसटी लिया जा रहा है।

वहीँ देश में ही सीरम इंस्टीट्यूट में बनने वाली वैक्सीन पर केंद्र सरकार राज्यों से 5% जीएसटी चार्ज कर ही है। सामने आया है कि सीरम इंस्टीट्यूट राज्य को एक डोज 315 रुपए में दे रहा है, इसकी मूल कीमत 300 रुपए है और 15 रुपए जीएसटी है।

ये भी पढ़ें:  कांग्रेस अध्यक्ष पद के लिए 30 सितंबर को नामांकन करेंगे शशि थरूर

एक खबर में खुलासा हुआ है कि राजस्थान सरकार को वैक्सीन की पहली खेप की डोज पर ही 56 करोड़ से ज्यादा की जीएसटी चुकानी पड़ रही है। इतने में राज्य को 18 लाख डोज और मिल जाती।

देश में प्रतिदिन 4 लाख तक आ रहे नए मामले:

वहीँ देश में कोरोना की रफ्तार के बीच भारत में पिछले 24 घंटे में कोरोना संक्रमण के 4,01,078 नए मामले आने के बाद कुल पॉजिटिव मामलों की संख्या 2,18,92,676 हुई। 4,187 नई मौतों के बाद कुल मौतों की संख्या 2,38,270 हो गई है। देश में सक्रिय मामलों की कुल संख्या 37,23,446 है और डिस्चार्ज हुए मामलों की कुल संख्या 1,79,30,960 है।

भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद (ICMR) के मुताबिक, भारत में कल तक कोरोना वायरस के लिए कुल 30,04,10,043 सैंपल टेस्ट किए जा चुके हैं, जिनमें से 18,08,344 सैंपल कल टेस्ट किए गए।

अपनी राय कमेंट बॉक्स में दें
सत्य को ज़िंदा रखने की इस मुहिम में आपका सहयोग बेहद ज़रूरी है। आपसे मिली सहयोग राशि हमारे लिए संजीवनी का कार्य करेगी और हमे इस मार्ग पर निरंतर चलने के लिए प्रेरित करेगी। याद रखिये ! सत्य विचलित हो सकता है पराजित नहीं।
ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें