अब भड़काऊ भाषण के लिए दिल्ली पुलिस ने दर्ज की यति नरसिंहानंद के खिलाफ एफआईआर

नई दिल्ली। पिछले वर्ष दिसंबर में हरिद्वार में आयोजित धर्म संसद में भड़काऊ भाषण देने के आरोप में जेल की हवा खा चुके डासना मंदिर के महंत यति नरसिंहानंद पर एक बार फिर भड़काऊ भाषण देने और एक धर्म विशेष के लोगों के खिलाफ आग उगलने का आरोप लगा है।

ताज़ा मामले में दिल्ली पुलिस ने यति नरसिंहानंद उनके वकील वकील सुरेश चौहान और कार्यक्रम के आयोजक के खिलाफ मामला दर्ज किया है। आरोप है कि दिल्ली के बुराड़ी में आयोजित हिन्दू महापंचायत में यति नरसिंहानंद ने न सिर्फ भड़काऊ भाषण दिए बल्कि एक धर्म विशेष के लोगों के खिलाफ ज़हर भी उगला।

एक मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक,जिस स्थान पर हिन्दू महापंचायत आयोजित की गई थी, पुलिस ने उस जगह पंचायत के आयोजन की अनुमति नहीं दी थी। पुलिस के मुताबिक, इस मामले में तीन लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई है। इतना ही नहीं पुलिस ने कार्यक्रम के आयोजकों के खिलाफ आईपीसी की धारा 153ए और 188 के तहत मामला दर्ज किया है।

बुराड़ी की हिन्दू महापंचायत में एक धर्म विशेष को लेकर कथित तौर पर भड़काऊ भाषण दिए गए। इसमें यति नरसिंहानंद द्वारा दिए गए भड़काऊ भाषण का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है।

हालांकि इससे पहले भी हरिद्वार धर्म संसद के वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुए थे। जिसके बाद ही उत्तराखंड पुलिस ने शिया वक्फ बोर्ड के पूर्व चेयरमैन वसीम रिज़वी उर्फ़ जितेंद्र त्यागी,यति नरसिंहानंद तथा अन्य लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया था। इस मामले में यति नरसिंहानंद को ज़मानत मिल चुकी है।

ये भी पढ़ें:  फारूक अब्दुल्ला ने स्वीकारा, "2018 में पंचायत चुनाव का बहिष्कार करना बड़ी गलती थी"

अपनी राय कमेंट बॉक्स में दें