इजराइल में बेंजमिन नेतन्याहू के शासन का अंत

नई दिल्ली(इंटरनेश्नल डेस्क)। इजराइल में बेंजमिन नेतन्याहू के शासन का अंत हो गया है। इजराइल में सांसदों के 60 और 59 वोट के साथ नफ्ताली बेनेट ने रविवार को इजरायल के केसेट में एक अहम जीत हासिल की। इसके साथ ही इजराइल की संसद ने नई सरकार के गठन को मंजूरी दे दी। नई सरकार में नफ्ताली बेनेट प्रधानमंत्री होंगे।

इसके साथ ही इजराइल में सबसे लंबे समय तक प्रधानमंत्री रहे बेंजमिन नेतन्याहू के कार्यकाल का अंत हो गया। इजरायल के पूर्व प्रधानमंत्री बेंजमिन नेतन्याहू अंतरराष्ट्रीय स्तर पर एक चर्चित नेता हैं। वो अंतर्राष्ट्रीय राजनीति में सक्रिय रहे हैं।

गौरतलब है कि इजराइल के पूर्व प्रधानमंत्री बेंजमिन नेतन्याहू रिश्वत लेने, धोखाधड़ी तथा विश्वासभंग जैसे कई आरोपों से घिरे हुए हैं और उनके खिलाफ मुकदमें अभी भी चल रहे हैं. हालांकि वो इन आरोपों को खारिज करते आए हैं। इसके बावजूद सत्ता से बेदखल होने नेतन्याहु को रास नहीं आ रही और उन्होंने इजराइल में नई सरकार को जल्द गिरा देने की धमकी दी है। उन्होंने कहा कि वे जल्द ही नई सरकार को गिरा देंगे।

ये भी पढ़ें:  राहुल ने अंकिता कांड का उदाहरण देकर बताया बीजेपी महिलाओं के प्रति कितना सम्मान रखती है

वहीँ इजराइल में नेतन्याहु सरकार के जाने के बाद नई सरकार के गठन को अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर बड़े बदलाव के तौर पर देखा जा रहा है। जानकारों की माने तो नए प्रधानमंत्री नफ्ताली बेनेट से इजराइल की विदेश नीति में कुछ परिवर्तन की उम्मीद की जा सकती है। इतना ही नहीं माना जा रहा है कि नई सरकार कई देशो के साथ इजराइल के संबधो को सुधारने की दिशा में काम करेगी।

अपनी राय कमेंट बॉक्स में दें
सत्य को ज़िंदा रखने की इस मुहिम में आपका सहयोग बेहद ज़रूरी है। आपसे मिली सहयोग राशि हमारे लिए संजीवनी का कार्य करेगी और हमे इस मार्ग पर निरंतर चलने के लिए प्रेरित करेगी। याद रखिये ! सत्य विचलित हो सकता है पराजित नहीं।
ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें