मुंबई क्रूज ड्रग्स मामला: एक ग्राम ड्रग्स भी जहाज़ में ज़ब्त नहीं हुई, NCB की कहानी फ़र्ज़ी: NCP

मुंबई। मुंबई क्रूज ड्रग्स मामले में राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) ने आज आरोप लगाया कि ये पूरा प्रकरण फ़र्ज़ी है और नारकोटिक कंट्रोल ब्यूरो (एनसीबी) ने चार्जेज फ्रेम करने के लिए फ़र्ज़ी कहानी गढ़ी है।

मुंबई क्रूज ड्रग्स मामले पर बुधवार को राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) प्रवक्ता नवाब मलिक ने कहा कि यह पूरा फर्ज़ीवाड़ा है। एक ग्राम ड्रग्स भी जहाज़ में ज़ब्त नहीं हुई, ना ट्रमिनल पर ना ही किसे के पास से। जिस जगह पर छापा होता है वहां पंचनामा किया जाता है लेकिन वहां कोई पंचनामा नहीं हुआ। फ्रेम करने के लिए NCB ने फर्ज़ीवाड़ा किया।

नवाब मलिक ने कहा कि ड्रग्स मामले में एनसीबी एजेंसी का काम पिछले एक साल से संदिग्ध रहा है। सुशांत सिंह राजपूत केस में जूरिस्डिक्शन नहीं होते हुए भी बिहार में केस दर्ज हुआ। एक रणनीति के तहत बॉलीवुड और महाराष्ट्र को बदनाम करने का काम शुरू हुआ।

मलिक ने कहा कि 3 तारीख को सभी चैनल पर दिखाया गया कि क्रूज पर एनसीबी ने रेड किया है और कुछ लोगों को हिरासत में लिया है। आर्यन खान और अरबाज को अरेस्ट कर जो व्यक्ति ले जा रहा है। वह व्यक्ति के पी गोसावी और मनीष भानुशाली है।

ये भी पढ़ें:  5G Launched In India : PM मोदी ने भारत में लॉन्च की 5G सर्विस

उन्होंने कहा कि आर्यन को ले जाने वाले मनीष भानुशाली की तस्वीर बीजेपी के बड़े बड़े मंत्रियों के साथ हैं। उनकी तस्वीर पीएम मोदी के साथ है, गृहमंत्री अमित शाह के साथ है। यह एनसीबी का अधिकारी नहीं बीजेपी का पदाधिकारी है।

नवाब मलिक ने कहा कि जो भी ड्रग्स की तस्वीरें मीडिया में सर्कुलेट की गई है वो जोनल डायरेक्टर के टेबल की है। क्रूज से कोई ड्रग्स बरामद नहीं हुआ। आर्यन को पकड़ने वाले भानुशाली पर मलिक ने कहा कि भानुशाली 22 तारीख को दिल्ली के एक मंत्री के साथ था। इसके बाद वह गुजरात में 1 तारीख को अहमदाबाद जाता है, फिर 3 तारीख को रेड में शामिल होता है।

राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के नेता नवाब मालिक ने गुजरात के अडानी पोर्ट से भारी मात्रा में ड्रग्स जब्त किये जाने का मामला उठाते हुए कहा कि एनसीबी यह भी कार्रवाई करे कि मनीष भानुशाली का गुजरात बंदरगाह में जो भारी मात्रा में ड्रग्स जब्त हुआ उससे क्या संबंध है?

उन्होंने कहा कि मनीष भानुशाली बीजेपी का उपाध्यक्ष है और के पी गोसावी एक फ्रॉड है उसके फेसबुक में एनसीबी जोनल डायरेक्टर के साथ फोटो था। अब लॉक हो गया है। इसके साथ नवाब ने आरोप लगाया कि वह गाड़ी में पुलिस नाम की पट्टी लगाकर घुमता है।

ये भी पढ़ें:  WhatsApp : इस तरह का काम करते हैं तो हो जाएं सावधान, हो सकता है आपका भी अकाउंट बैन

अपनी राय कमेंट बॉक्स में दें
सत्य को ज़िंदा रखने की इस मुहिम में आपका सहयोग बेहद ज़रूरी है। आपसे मिली सहयोग राशि हमारे लिए संजीवनी का कार्य करेगी और हमे इस मार्ग पर निरंतर चलने के लिए प्रेरित करेगी। याद रखिये ! सत्य विचलित हो सकता है पराजित नहीं।
ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें