24 घंटे में कोरोना संक्रमण के आये दो लाख से अधिक मामले, कई राज्यों पर लॉकडाउन की तलवार

नई दिल्ली। देश में प्रतिदिन बढ़ते कोरोना संक्रमित मामलो के बीच पिछले 24 घंटे में दो लाख से अधिक नए मामले सामने आये हैं। स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय के आंकड़ों के मुताबिक पिछले 24 घंटे में कोरोना के 2,00,739 नए मामले सामने आये हैं और 1,038 लोगों की मौत हुई है। देश में कुल 11,44,93,238 लोगों को कोरोना वायरस की वैक्सीन लगाई गई है।

हरियाणा में पिछले 24 घंटों में कोरोना के 5,858 नए मामले, 2,743 रिकवरी और 18 मौतें दर्ज़ की गई। कुल मामलों की संख्या 3,35,800 हो गई है।

पंजाब में पिछले 24 घंटों में कोरोना के  4,333 नए मामले सामने आए हैं। 2,478 लोग डिस्चार्ज हुए और 51 लोगों की मृत्यु दर्ज़ की गई। राज्य में कुल मामले बढ़कर 2,86,816 हो गए हैं।

दिल्ली में पिछले 24 घंटों में कोरोना के 16,699 नए  मामले, 112 मौतें और 13,014 रिकवरी दर्ज़ की गई हैं। दिल्ली में सरकार ने विकेंड लॉकडाउन लगाने का निर्णय लिया है। इस दौरान सैलून और स्पा बंद रहेंगे।

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि एक साप्ताहिक बाज़ार को एक दिन में और एक ज़ोन के हिसाब से अनुमति दी जाएगी। साप्ताहिक बाज़ार में ज़्यादा भीड़ ना हो इसके लिए खास इंतजाम किए जा रहे हैं। रेस्टोरेंट में अब बैठ कर खाने की इजाजत नहीं होगी, केवल होम डिलीवरी की अनुमति होगी।

उन्होंने कहा कि हम जरूरी सेवाओं से जुड़े लोगों और शादियों के लिए लोगों को कर्फ्यू पास देंगे। मॉल, जिम, स्पा, ऑडिटोरियम को बंद करने के निर्देश दिए जा रहे हैं। सिनेमा हॉल 30% क्षमता पर चल सकते हैं।

महाराष्ट्र में पिछले 24 घंटों में 61,695 नए कोविड ​​मामले, 53,335 रिकवरी और 349 मौतें दर्ज़ की गई। मुंबई में कोरोना के 8,217 नए मामले, 49 मौतें और 10,097 रिकवरी रिपोर्ट की गई; सक्रिय मामलों की संख्या 85,494 है। पिछले 24 घंटों में नागपुर में कोरोना के 5,813 नए  मामले, 74 मौतें और 4,634 रिकवरी दर्ज़ की गई।

ये भी पढ़ें:  इसी रविवार को हो सकती है नीतीश-लालू की सोनिया गांधी से मुलाक़ात

पश्चिम बंगाल में पिछले 24 घंटों में कोरोना के 6,769  मामले, 2,387 रिकवरी और 22 मौतें दर्ज़ की गई हैं।

गुजरात में पिछले 24 घंटों में कोरोना के 8,152 नए मामले, 3,023 डिस्चार्ज और 81 मौतें दर्ज़ की गई।

तमिलनाडु में कोरोना के 7,987 नए मामले, 4,176 रिकवरी और 29 मौतें दर्ज़ की गई।

उत्तराखंड में पिछले 24 घंटों में कोरोना के 2,220 नए मामले और 9 मौतें दर्ज़ की गई; कुल मामले 1,16,244 हो गए हैं। उत्तराखंड स्टेट कोविड कंट्रोल रूम के अनुसार 10 अप्रैल से 14 अप्रैल तक हरिद्वार में कुल 2,167 कोविड मामले पाए गए हैं।

आंध्र प्रदेश में पिछले 24 घंटों में कोरोना के 5,086 नए मामले सामने आए हैं। 1,745 लोग डिस्चार्ज हुए और 14 लोगों की मृत्यु दर्ज़ की गई।

गोवा में आज कोरोना के 757 नए  मामले और 5 मौतें दर्ज़ की गई; कुल मामले 64,572 हो गए हैं।

कर्नाटक में कोरोना के 14,738 नए  मामले, 3,591 डिस्चार्ज और 66 मौतें दर्ज़ की गई।

उत्तर प्रदेश अपर मुख्य सचिव स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद के मुताबिक उत्तर प्रदेश में पिछले 24 घंटों में कोरोना संक्रमण के 22,439 मामले सामने आए हैं। 4,222 लोग डिस्चार्ज हुए। प्रदेश में 1,29,848 सक्रिय मामले हैं। संक्रमण से कुल 9,480 लोगों की मृत्यु हुई है। कल प्रदेश में 2,06,517 सैंपल की जांच हुई।

उत्तर प्रदेश के उप मुख्यमंत्री दिनेश शर्मा ने कहा कि लखनऊ, प्रयागराज, वाराणसी, कानपुर, गौतमबुद्ध नगर, मेरठ, गोरखपुर, झांसी, बरेली और बलिया में रात 8 बजे से सुबह 7 बजे तक कर्फ्यू लगेगा।

उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश में हाईस्कूल और इंटरमीडिएट की परीक्षा 20 मई तक स्थगित की गई है। मई के पहले सप्ताह में फैसला किया जाएगा कि परीक्षा करानी है या अन्य विकल्पों पर विचार करना है। विश्वविद्यालय और महाविद्यालय की परीक्षा 15 मई तक स्थगित की गई है।

ये भी पढ़ें:  कॉमेडियन राजू श्रीवास्तव का निधन

कई राज्यों पर लटकी है लॉकडाउन की तलवार:

कई राज्यों में कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलो के बीच लॉकडाउन की तलवार लटकी है। महाराष्ट्र, छत्तीसगढ़, मध्य प्रदेश, उत्तर प्रदेश और दिल्ली सहित कई राज्यों के कई शहरो में रात का कर्फ्यू लागू है। जिस गति से कोरोना संक्रमित मामले बढ़ रहे हैं उसे देखकर कई राज्य पूर्ण लॉकडाउन लागू करने पर विचार कर रहे हैं।

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने अपने एक बयान में ऐसे संकेत दिए हैं कि बिहार में जल्द ही लॉकडाउन लागू किया जा सकता है तथा राज्य की सीमाएं भी सील की जा सकती हैं। उन्होंने कहा कि जिन्हे वापस आना है वे जल्द आ जाएँ।

गुरूवार को राज्य के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने पत्रकारों से बातचीत करते हुए कहा है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के निर्देश पर 17 अप्रैल को राज्‍यपाल फागू चौहान के नेतृत्‍व में आयोजित सर्वदलीय बैठक में मिले सुझावों के आधार पर परिस्थितियों को देखते हुए आगे का फैसला किया जाएगा। नीतीश कुमार ने ये भी कहा है कि इस बार ग्रामीण क्षेत्र से ज्यादा मामले सामने आ रहे हैं। जो लोग बाहर काम करने या अन्य कारणों से रह रहे हैं। यदि वो राज्य आना चाहते हैं तो जल्दी से जल्दी आ जाएं।

मुख्‍यमंत्री ने आगे ये भी कहा है कि यदि हालात नहीं सुधरे तो सरकार कड़े कदम उठा सकती है। सीएम नीतीश कुमार गुरुवार को पटना के इंदिरा गांधी आयुर्विज्ञान संस्‍थान में कोरोना वायरस वैक्‍सीन की दूसरी डोज लेने के लिए पहुंचे थे, इसके बाद उन्होंने ये बातें कही है।

अपनी राय कमेंट बॉक्स में दें
सत्य को ज़िंदा रखने की इस मुहिम में आपका सहयोग बेहद ज़रूरी है। आपसे मिली सहयोग राशि हमारे लिए संजीवनी का कार्य करेगी और हमे इस मार्ग पर निरंतर चलने के लिए प्रेरित करेगी। याद रखिये ! सत्य विचलित हो सकता है पराजित नहीं।
ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें