मध्य प्रदेश: भागवत कथा में महात्मा गांधी के खिलाफ आपत्तिजनक टिप्पणी, केस दर्ज

भोपाल ब्यूरो। मध्य प्रदेश के नरसिंहपुर में भागवत कथा के दौरान राष्ट्रपिता महात्मा गांधी को लेकर की गई अपमानजनक टिप्पणी के मामले में पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है।

जानकारी के मुताबिक, मामला नरसिंहपुर के छिंदवाड़ा रोड पर वीरा लॉन की भागवत पंडाल के दौरान का है। जहां सोमवार को भागवत कथा वाचक हरिद्वार से आए संत तरुण मुरारी बापू भक्तों के बीच कथा कह रहे थे।

भागवत कथा के दौरान तरुण मुरारी बापू ने महात्मा गांधी को देशद्रोही बताया । उसने कहा कि महात्मा गांधी को लेकर कहा कि जो राष्ट्र के टुकड़े कर दें, वो कैसे राष्ट्रपिता हो सकता है।

तरुण मुरारी बापू यहीं नही कहा, उसने आगे कहा कि मैं उसका विरोध करता हूं वह राष्ट्रद्रोही हैं। तरुण मुरारी ने कहा कि महात्मा गांधी ना तो महात्मा है ना राष्ट्रपिता हो सकते बल्कि उन्होंने देश के टुकड़े कर दिए। वे देशद्रोही हैं, उन्होंने अपने जीते जी भारत के टुकड़े करवा दिए। इसलिए उन्हें देशद्रोही कहा जाना चाहिए।

मामला संज्ञान में आने के बाद पुलिस ने तरुण मुरारी बापू के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है और इस पर आगे की कार्यवाही कर रही है। नरसिंहपुर (म.प्र.) के पुलिस अधीक्षक विपुल श्रीवास्तव ने बताया कि कल एक भागवत के दौरान महात्मा गांधी पर एक टिप्पणी की गई थी, इसकी रिकॉर्डिंग हमें उपलब्ध कराई गई। धारा 505(2) और 153 बी के तहत अपराध पंजीबद्ध किया गया है। उन्हें नोटिस दिया गया है, अग्रिम वैधानिक कार्रवाई थाना द्वारा की जा रही है।

ये भी पढ़ें:  भारत जोड़ो यात्रा से राहुल ने अपनी नेतृत्व क्षमता साबित की, 2024 में कांग्रेस की डबल होंगी सीटें: शत्रु

गौरतलब है कि इससे पहले हाल ही में छत्तीसगढ़ के रायपुर में आयोजित धर्म संसद के दौरान कालीचरण बाबा ने राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के खिलाफ अपमानजनक टिप्पणी की थी। इस मामले में कालीचरण को गिरफ्तार कर जेल भेजा जा चूका है।

अपनी राय कमेंट बॉक्स में दें