उज्जैन जिले में लॉक डाउन बढऩे के आसार, क्राइसिस मैनेजमेंट की बैठक आज

उज्जैन में संक्रमण की दर अब भी 10% से अधिक, मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने घोषणा की थी कि जिन जिलों में 5 प्रतिशत या उससे कम संक्रमण रहेगा वहां शर्तों के साथ लॉकडाऊन खोला जायेगा।

उज्जैन(विशाल जैन)। जिले में 17 मई तक का लॉकडाऊन कलेक्टर द्वारा घोषित किया गया था। यह लॉकडाऊन 25 मई तक बढऩे की संभावना है। इसका मुख्य कारण उज्जैन जिले में संक्रमण का प्रतिशत 15 से 17 होना है।

सीएम ने घोषणा की थी कि जिन जिलों में 5 प्रतिशत या उससे कम संक्रमण रहेगा वहां शर्तों के साथ लॉकडाऊन खोला जायेगा। उज्जैन जिले की जो ताजा स्थिति है उस अनुसार कोरोना का संक्रमण प्रतिशत 15 से 17 है। ऐसी स्थिति में 17 मई से लॉकडाऊन खुलना नामुमकिन है।

आज दोपहर 12 बजे से जिले की क्राइसिस मेनेजमेंट समिति की बैठक प्रारंभ हो चुकी है। इस बैठक में कलेक्टर, एसपी के अलावा सांसद अनिल फिरोजिया, मंत्री डॉ. मोहन यादव, विधायक पारस जैन, भाजपा के पदाधिकारी शामिल हुए हैं।

बैठक में समाचार लिखे जाने तक कलेक्टर आशीष सिंह ने समिति के सदस्यों को कोरोना को लेकर जिले की स्थिति से अवगत कराया साथ ही बताया कि तमाम कोशिश के बाद भी संक्रमण का प्रतिशत 15 से 17 है। ऐसी स्थिति में उन्होंने प्रस्ताव दिया कि लॉकडाऊन बढ़ाया जाना उचित होगा।

ये भी पढ़ें:  देश के कई राज्यों में PFI के खिलाफ ऑपरेशन जारी, दिल्ली और यूपी से भी गिरफ्तारी

बैठक के सूत्रों के अनुसार जिले में लॉकडाऊन 25 अथवा 31 मई तक बढ़ाया जा सकता है। संभावना है कि इन दिनों में और अधिक सख्ती होगी। ज्ञात रहे कोरोना अब शहर से गांव की ओर कूच कर गया है।

अपनी राय कमेंट बॉक्स में दें
सत्य को ज़िंदा रखने की इस मुहिम में आपका सहयोग बेहद ज़रूरी है। आपसे मिली सहयोग राशि हमारे लिए संजीवनी का कार्य करेगी और हमे इस मार्ग पर निरंतर चलने के लिए प्रेरित करेगी। याद रखिये ! सत्य विचलित हो सकता है पराजित नहीं।
ताज़ा हिंदी समाचार और उनसे जुड़े अपडेट हासिल करने के लिए फ्री मोबाइल एप डाउनलोड करें अथवा हमें फेसबुक, ट्विटर या गूगल पर फॉलो करें