अमित शाह को कुछ दिनों तक कश्मीर में रहने दें: शिव सेना

अमित शाह को कुछ दिनों तक कश्मीर में रहने दें: शिव सेना

मुंबई। जम्मू कश्मीर में हल में हुई आतंकी घटनाओं के बाद आज गृह मंत्री अमित शाह के जम्मू कश्मीर दौरे को लेकर शिवसेना ने अपनी प्रतिक्रिया दी है। शिव सेना सांसद संजय राउत ने पत्रकारों से बात करते हुए कहा कि अमित शाह को कुछ दिनों तक कश्मीर में ही रहने दें।

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह के जम्मू कश्मीर दौरे को लेकर पूछे गए सवाल के जबाव में संजय राउत ने कहा,“अच्छी बात है, उन्हें कुछ दिन वहीं रहना चाहिए।” इतना ही नहीं संजय राउत ने कहा कि अनंतनाग, श्रीनगर, बारामुला, गुलमर्ग में बड़े पैमाने पर दहशतवाद शुरू है। देश के गृहमंत्री वहां जाकर ठहरें तो जरूर आतंकियों पर दबाव बढ़ेगा और हमारे सुरक्षा रक्षकों, सेना, पुलिस के जवानों का आत्मविश्वास भी बढ़ेगा।

बीजेपी विधायक आशीष शेलार द्वारा शिवसेना के मुखपत्र सामना के संपादकीय को लेकर उठाये गए सवाल को लेकर पूछे गए प्रश्न के जबाव में संजय राउत ने कहा कि हम हिंदुत्व के पुराण पुरुष, मूल पुरुष हैं। हमें कोई इस बारे में कुछ ना सिखाए। जब हमने बाबरी तोड़ी तो सवाल पूछे जाने पर हाथ खड़े नहीं किए, भाग नहीं गए, आप (बीजेपी नेता) भाग गए।

राउत ने कहा कि कश्मीर में जिस तरह हिंदुओं का कत्लेआम शुरू है। बांग्लादेश में जिस तरह हिंदू बस्तियों में हमले हो रहे हैं, उनके घर जलाए जा रहे हैं, उनकी हत्याएं हो रही हैं। उन हिंदुओं की सुरक्षा को लेकर हमने आज के सामना संपादकीय में चिंता जताई है।

ये भी पढ़ें:  राखी सावंत के पति आदिल खान दुर्रानी ने चेतावनी किया पलटवार: मैं सुशांत सिंह राजपूत नहीं बनना चाहता

संजय राउत ने कहा कि देश के बाहर हिंदू हों या जम्मू-कश्मीर के हिंदू हों, उनकी सुरक्षा करना केंद्र सरकार का दायित्व है। ऐसा कह कर हमने कोई गलत किया क्या? अगर इसे कोई वैचारिक दरिद्रता कह रहा है तो फिर इसकी कोई नई परिभाषा गढ़ी गई है।

राउत ने बीजेपी पर अपना हमला जारी रखते हुए कहा कि हम कह रहे हैं हिंदुओं की रक्षा करें। हम कह रहे हैं बांग्लादेश में हिंदुओं को सुरक्षा दें। मोदी सरकार द्वारा बांग्लादेश पर दबाव डालना चाहिए।

उन्होंने कहा कि हम ही नहीं बीजेपी के सांसद सुब्रह्मण्यम स्वामी भी यह कह रहे हैं कि हिंदुओ पर हो रही हिंसा को लेकर हिंदुस्तान को बांग्लादेश पर सैनिक कार्रवाई करनी चाहिए। यह मिस्टर शेलार (बीजेपी विधायक) को समझ नहीं आ रहा।

राउत ने कहा कि पिछले 17 दिनों में कश्मीर में 21 हिंदुओं और सिक्खों को मार दिया गया, यह शेलार को दिखाई नहीं दे रहा। 19 पुलिस जवान मारे गए हैं। इस पर सवाल करना क्या वैचारिक दरिद्रता है?

बीजेपी नेता किरीट सोमैया द्वारा हाल ही में संजय राउत को लेकर कि वे उद्धव ठाकरे के प्रवक्ता है या शरद पवार के? इसके जबाव में संजय राउत ने कहा कि वे दोनों के प्रवक्ता हैं।

ये भी पढ़ें:  अडाणी संकट: आरबीआई ने बैंकों से मांगा ब्योरा, विपक्ष चाहता है CJI की निगरानी में जांच

राउत ने कहा, ‘मैं दोनों का प्रवक्ता हूं। शरद पवार क्या दूसरे ग्रह से आए हैं? शरद पवार इस देश के एक बड़े और अहम नेता हैं। उन्होंने कहा कि अगर सोमैया को पता नहीं तो बता दूं कि, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी पवार को अपना गुरु मानते हैं। उन्होंने भरी सभा में यह कहा है कि शरद पवार को वे अपने गुरु मानते हैं। उनकी ऊंगली पकड़ कर राजनीति सीखी। यानी इस तरह के सवाल कर के सोमैया मोदी जी का अपमान कर रहे हैं। मोदी के गुरु का अपमान कर रहे हैं।’

अपनी राय कमेंट बॉक्स में दें

TeamDigital