अध्यक्ष पद के चुनाव से पहले एक्टिव हुए G-23 नेता, दिल्ली में बैठक, गहलोत से मिले आनंद शर्मा

नई दिल्ली। कांग्रेस अध्यक्ष पद के लिए नामांकन की अंतिम तारीख से पहले G-23 नेताओं ने दिल्ली में बैठक का आयोजन किया। बैठक में शामिल होने वाले नेताओं में वरिष्ठ कांग्रेस नेता आनंद शर्मा, हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा, कांग्रेस सांसद मनीष तिवारी और महाराष्ट्र के वरिष्ठ कांग्रेस नेता पृथ्वीराज चव्हाण शामिल हैं।

G-23 नेताओं की यह बैठक वरिष्ठ कांग्रेस नेता आनंद शर्मा के आवास पर आयोजित की गई थी। बैठक समाप्त होने के बाद आनंद शर्मा ने जोधपुर हॉउस में राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत से भी मुलाक़ात की। इस मुलाक़ात के बाद तरह तरह के कयास लगाए जा रहे हैं।

G-23 नेताओं की बैठक समाप्ति के बाद कांग्रेस नेता आनंद शर्मा के आवास से बाहर निकले महाराष्ट्र के वरिष्ठ कांग्रेस नेता पृथ्वीराज चव्हाण ने न्यूज़ एजेंसी एनएनआई से बातचीत में कहा कि अच्छा है कि पार्टी में लोकतांत्रिक तरीके से चुनाव हो रहे हैं। हमने निष्पक्ष चुनाव के लिए सोनिया गांधी को धन्यवाद दिया। देखते हैं कौन नामांकन दाखिल करेगा। हमने कुछ नाम सुने हैं। हम मैदान में सर्वश्रेष्ठ उम्मीदवार का समर्थन करेंगे।

गौरतलब है कि G-23 कांग्रेस के उस समूह का नाम है जिसने पार्टी अध्यक्ष के चुनाव के लिए कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी को पत्र लिखा था। इस पत्र पर 23 कांग्रेस नेताओं ने हस्ताक्षर किये थे। हालांकि हस्ताक्षर करने वाले नेताओं में एक बड़ा नाम गुलामनबी आज़ाद का भी था लेकिन वे अब कांग्रेस छोड़कर अपनी पार्टी बना चुके हैं।

ये भी पढ़ें:  गुजरात चुनाव: पहले चरण में 5 बजे तक 56.88% मतदान, बूथ पर गैस सिलेंडर लेकर पहुंचा मतदाता

G-23 समूह के नेताओं ने सोनिया गांधी को पत्र लिखकर पार्टी के लिए पूर्णकालिक अध्यक्ष के लिए चुनाव कराये जाने की मांग की थी। पत्र में कांग्रेस के कई राज्यों में चुनाव हारने और पार्टी की परफॉर्मेंस को लेकर सवाल उठाये गए थे।

इस पत्र पर कांग्रेस के अंदर बहुत बवाल मचा था। गांधी परिवार के वफादार नेताओं ने पत्र पर हस्ताक्षर करने वाले नेताओं का नाम लेकर तरह तरह के आरोप लगाए थे। यह मामला कांग्रेस कार्यसमिति की बैठक में भी उठा था। पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने भी इस पत्र को लेकर कड़ा एतराज जताया था।

अपनी राय कमेंट बॉक्स में दें