F-16 विमान देने में अमेरिका की आनाकानी पर बोले अर्दोग़ान, “हमारे पास और भी विकल्प”

नई दिल्ली(इंटरनेशनल डेस्क)। तुर्की को एफ-16 विमान और उसके कलपुर्जो की सप्लाई पर अमेरिका द्वारा की जा रही आनाकानी पर तुर्की के राष्ट्रपति रजब तैय्यब अर्दोग़ान ने अमेरिका से कड़ा विरोध जताया है।

अर्दोग़ान ने कहा कि अमेरिका ये न समझ बैठे कि तुर्की उसी पर निर्भर है। उन्होंने कहा कि तुर्की के पास अन्य कई विकल्प मौजूद हैं और यदि अमेरिका ने जल्द एफ-16 विमान और उसके कलपुर्जे तुर्की को नहीं दिया तो वह कोई भी फैसला ले सकता है।

तुर्की ने एफ-16 युद्धक विमानों के आधुनिकीकारण के लिए अमरीका से महीनों पहले इस विमान के कलपुर्ज़ों की मांग की थी। इस बारे में अमरीका ने तुर्की को कोई साफ जवाब नहीं दिया बल्कि वह इस संदर्भ में आनाकानी से काम ले रहा है। अब उन्होंने इस काम को कांग्रेस की अनुमति से जोड़ दिया है। इस मामले ने तुर्की के राष्ट्रपति को प्रतिक्रिया देने के लिए विवस किया है।

रजब तैयब अर्दोग़ान ने इस बारे में शुक्रवार को कहा है कि एसे में हमारे पास केवल वाशिग्टन नहीं है बल्कि दूसरे विकल्प भी मौजूद हैं।उन्होंने कहा कि इस संबन्ध में हम किसी दूसरे सेे भी वार्ता कर सकते हैं।

तुर्की के राष्ट्रपति ने युद्धक विमान एफ-16 के बारे में अमरीका के साथ वार्ता की पुष्टि करते हुए कहा कि अगर हो सका तो हम फिर वहीं काम करेंगे जो हमने एस-400 मिसाइल सिस्टम की ख़रीदारी के लिए किया था। हमारे पास विकल्प मौजूद हैं और हम उनका प्रयोग भी कर सकते हैं।

ये भी पढ़ें:  बांग्लादेश के खिलाफ एक दिवसीय सीरीज में नहीं खेल पाएंगे मोहम्मद शमी

तुर्की के राष्ट्रपति रजब तैयब अर्दोग़ान ने 9 सितंबर को कहा था कि अगर अमरीका एफ-16 युद्धक विमान हमको नहीं देता हैं तो हम फिर रूस का रुख़ करेंगे। उन्होंने कहा कि अमेरिका की नज़रअंदाजी के बाद हम अपने हिसाब से फैसला करने के लिए स्वतंत्र हैं।

अपनी राय कमेंट बॉक्स में दें