छटवें चरण में 55 फीसदी मतदान, सीएम योगी सहित कई दिग्गजों की किस्मत EVM में कैद

लखनऊ। उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के छटे चरण में गुरवार को राज्य के दस जिलों की 57 सीटों पर मतदान का काम पूरा हो गया है। जिन दस जिलों की विधानसभा सीटों पर मतदान हुआ उनमे बलरामपुर, अंबेडकर नगर, सिद्धार्थनगर, बस्ती, संत कबीर नगर, महाराजगंज, कुशीनगर, गोरखपुर, देवरिया और बलिया जिले में शामिल हैं।

छटे चरण में करीब 55 फीसदी मतदान होने की खबर है, हालांकि अंतिम आंकड़े अभी प्राप्त नहीं हुए हैं। इस चरण में लगभग एक लाख मतदाताओं ने पोस्टल बैलेट का इस्तेमाल किया। बुजुर्गों, दिव्यांगों, अनिवार्य सेवा व मतदान कर्मियों को 91,027 पोस्टल बैलेट जारी किए गए थे। इनमें से 64611 लोगों ने वोट डाले। इसके अलावा 42124 सर्विस वोटरों ने पोस्टल बैलेट से मतदान किया।

इस चरण में कुल 676 उम्मीदवारों में गोरखपुर शहर सीट से मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और तमकुही राज सीट से प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू, फाजिल नगर सीट से पूर्व मंत्री स्वामी प्रासाद मौर्य के अलावा प्रदेश सरकार में मंत्री पाथरदेव से सूर्य प्रताप शाही, इटवा से सतीश चंद्र द्विवेदी, बंसी से जय प्रताप सिंह, खजानी से श्री राम चौहान और रुद्रपुर से जय प्रकाश निषाद शामिल हैं।

उत्तर प्रदेश में 7 चरणों में 403 विधानसभा सीटों चुनाव संपन्न होने हैं, अब तक 6 चरणों में राज्य की 349 विधानसभा सीटों पर मतदान संपन्न हो चूका है। सातवें चरण में 7 मार्च को राज्य की 54 विधानसभा सीटों पर मतदान के साथ ही विधानसभा चुनाव संपन्न हो जायेंगे। मतगणना 10 मार्च को होगी।

ये भी पढ़ें:  जामा मस्जिद में अकेली लड़की और लड़कियों के समूह के प्रवेश पर रोक, महिला आयोग ने भेजा नोटिस

अहम मुकाबला गोरखपुर की शहर विधानसभा सीट पर हो सकता है। इस सीट पर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के खिलाफ समाजवादी पार्टी ने भाजपा के पूर्व नेता दिवंगत उपेंद्र दत्त शुक्ला की पत्नी को उम्मीदवार बनाया है। वहीँ आजाद समाज पार्टी के संस्थापक चंद्रशेखर आजाद ने भी गोरखपुर सीट से मुख्यमंत्री के खिलाफ उम्मीदवर हैं।

अपनी राय कमेंट बॉक्स में दें